सचिन को गलत आउट देने पर अंपायर इयान गोल्ड बोले- अब उस फैसले पर हंसी आती है, लोगों ने तस्वीरें भेजकर आलोचना की थी

  • इंग्लैंड के पूर्व अंपायर इयान गोल्ड ने कहा- सचिन तेंदुलकर, जैक कैलिस और विराट कोहली को खेलते देखना सबसे अच्छा
  • आईसीसी एलिट पैनल के पूर्व अंपायर ने 2011 वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के खिलाफ सचिन को गलत एलबीडब्ल्यू दिया था

दैनिक भास्कर

May 31, 2020, 01:38 PM IST

इंग्लैंड के पूर्व अंपायर इयान गोल्ड ने कहा कि 2011 वनडे वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में सचिन तेंदुलकर को गलत आउट दिया था। तब लोगों ने मैच के वक्त मेरे रिएक्शन की मेरी तस्वीरें भेजकर जमकर आलोचना की थी। गोल्ड ने कहा कि आज उन्हें उस फैसले पर हंसी आती है। हालांकि, मैच में सचिन ने डीआरएस लिया था और वे नॉटआउट करार दिए गए थे।

यह मैच पाकिस्तान के खिलाफ खेला गया था। मैच में सचिन ने 85 रन की पारी खेली थी और टीम को जिताया था। लेकिन, जब सचिन को गलत आउट दिया गया तब वे सिर्फ 23 रन बनाकर खेल रहे थे।

‘उस वाकये को याद नहीं करना चाहता’
आईसीसी एलिट पैनल के पूर्व अंपायर गोल्ड ने कहा, ‘‘मैं उस वाकये को बहुत कम ही याद करता हूं। उसके लिए मेरी बहुत आलोचना हुई थी। मेरे गलत आउट देने के बाद बिली बाउडेन (टीवी अंपायर) ने मेरे कान में कहा था कि गेंद लेग स्टंप्स से बाहर जा रही है। उस वाकये को याद करता हूं तो आज भी हंसी आती है।’’

सचिन ने गंभीर से बात करके डीआरएस लिया था

गोल्ड ने क्रिकेट वेबसाइट क्रिकइंफो से कहा, ‘‘मैं आपको बता दूं कि मैच के वक्त मुझे जरा भी हंसी नहीं आ रही थी। आज भी मुझे फैसला देना होता, तो वही होता, जो पहले था, क्योंकि मुझे अपने आप पर पूरा विश्वास था। वह सब कैसे हुआ, नहीं कह सकता। सचिन ने गौतम गंभीर से कुछ बात की और लौट आए। मैं भगवान का शुक्रिया किया, तभी पता चला कि सचिन ने डीआरएस ले लिया।’’

दक्षिण अफ्रीका के जैक कैलिस को खेलते देखना पसंद
पूर्व अंपायर ने कहा, ‘‘जैक कैलिस को देखना बहुत पसंद है। वे बहुत बहुत शानदार खिलाड़ी हैं। सचिन और विराट कोहली भी पसंद हैं। मैं बहुत दुर्भाग्यशाली रहा कि रिकी पोंटिंग के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन को नहीं देख सका। वे ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट का गर्व और एक बेहतरीन कप्तान हैं।’’

गोल्ड ने कोहली को मजेदार शख्स बताया
कोहली को लेकर गोल्ड ने कहा, ‘‘वे उन लोगों में से एक हैं, जिनमें सचिन की झलक दिखती है। उनके पीछे पूरा भारत है, लेकिन आपको पता नहीं है। जब आप कोहली को देखते हैं, तो आप आदर्श पुरुष के बारे में सोचेंगे। उन्हें अपने खेल की बारिकियां, उसका अतीत और इतिहास अच्छे से पता है। वे मजेदार शख्स हैं। आप उनके साथ रेस्टोरेंट में बैठकर घंटों बात कर सकते हैं।’’

सेमीफाइनल में भारत ने पाकिस्तान को हराया था
दरअसल, वर्ल्ड कप 2011 के सेमीफाइनल में भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 9 विकेट पर 260 रन बनाए थे। पारी के दौरान ओपनर सचिन 23 रन बनाकर खेल रहे थे। तभी 11वें ओवर में सईद अजमल की 5वीं गेंद सचिन क पेड पर लगी और अंपायर गोल्ड ने आउट दे दिया था। सचिन ने रिव्यू लिया, जिसमें गेंद को स्टंप्स से बाहर जाते हुए बताया। सचिन नॉटआउट हुए और 85 रन की अहम पारी खेली।

पाकिस्तान टीम 231 रन पर ऑलआउट होकर 29 रन से यह मैच हार गई थी। इसके बाद फाइनल में भारतीय टीम ने श्रीलंका को 6 विकेट से हराया था। पाकिस्तान टीम अब तक वनडे वर्ल्ड कप में भारत को कभी नहीं हरा पाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *