शेयर बिक्री के जरिए 30 हजार करोड़ रुपए की पूंजी जुटाएंगे यस बैंक और आईसीआईसीआई बैंक

  • यस बैंक एफपीओ के जरिए राशि जुटाएगा, 15 जुलाई को खुलेगा ऑफर
  • आईसीआईसीआई बैंक 13 साल बाद सार्वजनिक रूप से राशि जुटाएगा

दैनिक भास्कर

Jul 09, 2020, 02:04 PM IST

नई दिल्ली. निजी क्षेत्र के प्रमुख बैंक आईसीआईसीआई बैंक और यस बैंक अपनी बैलेंस शीट मजबूत करने के लिए 30 हजार करोड़ रुपए की राशि जुटाने जा रहे हैं। दोनों बैंक 15-15 हजार करोड़ रुपए की राशि जुटाएंगे। इसके लिए दोनों बैंकों के बोर्ड ने मंजूरी दे दी है। 

15 जुलाई को खुलेगा यस बैंक का ऑफर

यस बैंक की ओर से गुरुवार को दाखिल किए गए रेड हीयरिंग प्रोस्पेक्ट्स (आरएचपी) के मुताबिक फरदर पब्लिक ऑफरिंग (एफपीओ) में फ्रेश इक्विटी शेयर के जरिए 15 हजार करोड़ रुपए की राशि जुटाई जाएगी। रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज को 7 जुलाई को दाखिल किए गए आरएचपी के मुताबिक, ऑफर 15 जुलाई को खुलेगा और यह 17 जुलाई को बंद होगा। इस सप्ताह की शुरुआत में ही बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की कैपिटल रेजिंग कमेटी (सीआरसी) ने राशि जुटाने की योजना को मंजूरी दी है। 

200 करोड़ रुपए का पोर्शन कर्मचारियों के लिए आरक्षित

यस बैंक का कहना है कि 15 हजार करोड़ रुपए के एफपीओ में 200 करोड़ रुपए का पोर्शन कर्मचारियों के लिए आरक्षित रहेगा। एसबीआई के सेंट्रल बोर्ड की एक्जीक्यूटिव कमेटी यस बैंक के एफपीओ में 1760 करोड़ रुपए के निवेश को मंजूरी दे चुकी है। बैंक ने बताया कि 10 जुलाई या इसके बाद होने वाली सीआरसी की बैठक में एफपीओ के प्राइस बैंड और छूट समेत अन्य मुद्दों पर चर्चा करेगी। गुरुवार को यस बैंक के शेयर दोपहर 1.47 बजे 1.15 फीसदी की तेजी के साथ 26.40 रुपए प्रति शेयर पर कारोबार कर रहे हैं।

आईसीआईसीआई बैंक शेयर सेल के जरिए राशि जुटाएगा

उधर, आईसीआईसीआई बैंक ने बुधवार को शेयर बाजारों को जानकारी देकर कहा कि वह बैलेंस शीट को मजबूत करने के लिए 15 हजार करोड़ रुपए की राशि जुटाएगा। इसके लिए बैंक के बोर्ड ने मंजूरी दे दी है। यह राशि शेयर सेल के जरिए जुटाई जाएगी। बैंक करीब 13 साल बाद सार्वजनिक तरीके से राशि जुटाने जा रहा है। इससे पहले जून 2007 में आईसीआईसीआई बैंक ने फ्रेश शेयर के जरिए 8750 करोड़ रुपए की राशि जुटाई थी। आईसीआईसीआई बैंक का शेयर 0.03 फीसदी की तेजी के साथ 369 रुपए प्रति शेयर पर कारोबार कर रहा है।