विराट ने पंड्या से कहा- खिलाड़ी को मेहनत से ही नंबर-1 बनना चाहिए, किसी को धक्का मारकर नहीं

  • हार्दिक पंड्या ने धोनी की कप्तानी में वनडे डेब्यू और विराट कोहली की कप्तानी में टेस्ट डेब्यू किया था
  • हार्दिक ने कहा- विराट, रोहित और धोनी को नंबर-2 बनने से कोई प्रोब्लम नहीं, इसी में उनकी महानता है

दैनिक भास्कर

Jun 27, 2020, 09:03 AM IST

भारतीय ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या ने कहा कि कप्तान विराट कोहली ने कई मौकों पर उन्हें सफल होने के लिए सलाह देते रहे हैं। पंड्या ने कोहली से नंबर-1 बनने को लेकर सवाल किया था। इस पर भारतीय कप्तान ने कहा कि खिलाड़ी को कड़ी मेहनत से ही नंबर-1 बनने की कोशिश करना चाहिए, किसी को धक्का मारकर नहीं।

पंड्या ने बड़ौदा के अंडर-19 खिलाड़ियों से कहा, ‘‘दो दिन पहले मैंने विराट से बात की। मैंने उनसे पूछा कि आपकी सफलता का राज क्या है? इस पर कोहली ने कहा कि तुम्हारा एटीट्यूड ठीक है, सबकुछ सही है। आप अपने दिमाग को लगातार एक बात यह बताते रहो कि यदि आपमें नंबर-1 बनने की भूख है, तो इसे सही रास्ते पर चलकर ही पाना चाहिए। किसी को धक्का मारकर नहीं। कड़ी मेहनत से ही सफलता मिलती है और नंबर-1 बना जाता है।’’

पंड्या को तीन खिलाड़ियों की कप्तानी में खेलने का अनुभव
पंड्या ने अपना वनडे डेब्यू महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में किया था। जबकि उन्होंने पहला टेस्ट विराट की कप्तानी में खेला। इसके अलावा वे इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में मुंबई इंडियंस टीम से खेलते हैं, जिसके कप्तान रोहित शर्मा हैं।

‘अब समझा कि विराट नंबर-1 क्यों हैं’
हार्दिक ने कहा, ‘‘अब मैं समझ गया था कि विराट क्यों नंबर-1 हैं। रोहित शर्मा और धोनी जैसे खिलाड़ी कभी भी नंबर-2 नहीं बनना चाहते। यह खिलाड़ी ऐसे हैं कि यदि ये नंबर-2 बन भी जाते हैं, तो इन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता और वे फिर नंबर-1 बनने की कोशिश में जुट जाते हैं। इसी में इनकी महानता है।’’

बॉलर को बेस्ट होना ही चाहिए
ऑलराउंडर ने कहा, ‘‘आपको सबसे बेहतरीन बनने की लगातार कोशिश करते रहना चाहिए। यदि आप बॉलर हैं, तो आपको बेस्ट होना ही चाहिए। यदि आप ट्रेनिंग कर रहे हैं तब आपके अंदर सिर्फ ट्रेनिंग करने की उत्सुकता ही होनी चाहिए। सफलता के लिए आपको अपने जीवन में भी खुद से लड़ाई करते रहना चाहिए।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *