विदेश से लौट रहे भारतीयों को देश में ही मिलेगा रोजगार, सरकार ने शुरू की ‘स्वदेश’ योजना, अब तक 7000 से ज्यादा ने कराया रजिस्ट्रेशन

  • देश लौट रहे भारतीयों का उनकी स्किल के आधार पर डेटाबेस तैयार किया जा रहा है
  • डेटाबेस के आधार पर स्वदेशी और विदेशी कंपनियों में रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा
  • 30 मई को शुरू हुई थी योजना, देश लौट रहे लोगों को ऑनलाइन कराना होगा पंजीकरण

दैनिक भास्कर

Jun 04, 2020, 09:22 AM IST

नई दिल्ली. सरकार ने कोविड-19 महामारी के बीच विदेश से लौट रहे भारतीयों को देश में ही रोजगार उपलब्ध कराने के लिए ‘स्वदेश’ नाम से एक योजना की शुरुआत की है। नागरिक उड्डयन मंत्रालय के मुताबिक, वंदे भारत मिशन में विदेश में फंसे जिन भारतीयों को वापस लाया जा रहा है उनके लिए ‘स्वदेश’ यानी ‘स्किल्ड वर्कर्स अराइवल डाटाबेस फॉर इंप्लायमेंट सपोर्ट’ नाम से एक योजना शुरू की गई है। इसके तहत उनका डेटाबेस तैयार किया जा रहा है कि वे किस काम में निपुण हैं। इस डेटाबेस के आधार पर स्वदेशी और विदेशी कंपनियों की मांग के अनुरूप उन्हें रोजगार उपलब्ध कराया जा सके। नागरिक उड्डयन मंत्रालय, विदेश मंत्रालय और कौशल विकास मंत्रालय ने मिलकर इस योजना की शुरुआत की है।

ऑनलाइन स्वदेश कौशल कार्ड भरना होगा

विदेश से वापस आने वाले भारतीयों को www.nsdcindia.org/swades पर ऑनलाइन स्वदेश कौशल कार्ड भरना होगा। इसके बाद उनकी जानकारी कंपनियों के साथ साझा की जाएगी और उन्हें रोजगार के उचित अवसर मुहैया कराए जाएंगे। इस काम में राज्य सरकारों और उद्योग संगठनों की भी मदद ली जाएगी। इस योजना की शुरुआत 30 मई को की गई थी और अब तक इस पर सात हजार से अधिक लोग पंजीकरण करा चुके हैं। वंदे भारत मिशन के तहत अब तक 57 हजार से अधिक भारतीयों को विशेष उड़ानों में विदेश से वापस लाया गया है तथा हजारों अन्य लोगों ने वापसी के लिए पंजीकरण कराया है।

उपयोगी साबित होगा अंतरराष्ट्रीय स्तर का कौशल और अनुभव

नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि बड़ी संख्या में भारतीय विदेश से इसलिए वापस आ रहे हैं क्योंकि महामारी के कारण वहां उनका रोजगार छिन गया है। उनके पास अंतरराष्ट्रीय स्तर का कौशल और अनुभव है, जो हमारे देश में स्वदेशी और विदेशी कंपनियों के लिए उपयोगी हो सकता है। यात्रियों को वंदे भारत मिशन की उड़ान में ही स्वदेश स्किल कार्ड के बारे में जानकारी दी जा रही है। कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्री महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि स्वदेश योजना से संकट की इस घड़ी में देश की अर्थव्यवस्था के सामने मौजूद चुनौतियों से निपटने में मदद मिलेगी।

देश लौट रहे लोगों को दी जा रही स्वदेश कौशल कार्ड योजना की जानकारी

विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा कि कोरोनावायरस के कारण उत्पन्न वैश्विक आपात स्थिति में हम विदेश में फंसे अपने नागरिकों को हरसंभव मदद देने के लिए प्रतिबद्ध हैं। विभिन्न देशों में मौजूद हमारे दूतावासों, उच्चायोगों और वाणिज्य दूतावासों के जरिए हम स्वदेश कौशल कार्ड योजना के बारे में देश वापस आ रहे लोगों को बता रहे हैं।