लॉकडाउन में विजेता बनकर उभरीं वर्क फ्रॉम होम और मनोरंजन में मदद देने वाली टेक कंपनियां, ट्रांसपोर्ट से जुड़ी कंपनियों को सबसे ज्यादा नुकसान

  • जूम उन टेक कंपनियों में से एक है, जिसे कोरोनावायरस प्रकोप के बीच बहुत फायदा हुआ है
  • नेटफ्लिक्स के कुल 18.2 करोड़ सब्सक्राइबर हैं,  हाल में जुड़े 16 मिलियन न्यू सब्सक्राइबर

दैनिक भास्कर

May 12, 2020, 06:24 PM IST

नई दिल्ली. कोरोनावायरस के प्रकोप के चलते दुनियाभर में लाॅकडाउन को लागू किया गया है। लोग अपने घरों में बंद हैं। व्यवसाय ठप है। कोविड-19 महामारी व्यवसाय के लिए बुरी खबर रही है। लगभग सभी इंडस्ट्री इसके चपेट में हैं। टेक इंडस्ट्री की बात करें तो महामारी के चलते ज्यादातर कंपनियां आर्थिक तंगी से जुझ रही हैं। हालांकि, कुछ टेक कंपनियां ऐसी भी हैं जिनकी चमक महामारी के दौरान बढ़ी है। कारोबार में वे पहले के मुकाबले काफी दुरुस्त हुई है। आइए जानते हैं टेक इंडस्ट्री में विजेता और लूजर कंपनियों के बारे में-

विजेता

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप
कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने के लिए भारत समेत दुनियाभर के कई देश लॉकडाउन में हैं। इस दौरान ज्यादातर कर्मचारी वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं। ऑफिस का पूरा कार्य वीडियो काॅन्फ्रेंस ऐप पर शिफ्ट हो गया है। इसके चलते वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप जूम (Zoom) की मांग बहुत तेजी से बढ़ गई है। यह ऐप अब लॉकडाउन के बीच सबसे अधिक डाउनलोड किया जाने वाला एंड्रॉइड ऐप बन गया है। जूम का बेसिक वर्जन वीडियो कॉन्फ्रेंस कॉल में 50 लोगों को शामिल होने की अनुमति देता है। मजेदार बात यह है कि वर्तमान में जूम ही एक मात्र ऐसा ऐप है जो 10 से अधिक लोगों को एक साथ वीडियो कॉल का अवसर देता है। यही वजह है कि यह ऐप कामकाजी पेशेवरों के लिए रातोंरात सबसे पसंदीदा ऐप बन गया है। देश में 400 मिलियन से अधिक यूजर्स के साथ यह ऐप टॉप पर बना हुआ है। जूम उन टेक कंपनियों में से एक है, जिसे कोरोनो वायरस प्रकोप के बीच बहुत फायदा हुआ है।

गेमिंग ऐप
लाॅकडाउन में दिन भर घर पर रहने के कारण टाइम पास और मनोरंजन के लिए लोग ज्यादातर समय इनडोर गेम और ऑनलाइन गेमिंग ऐप पर बिता रहे हैं। ऑनलाइन गेम खेलने वालों की संख्या में भारी वृद्धि हुई है। लाखों लोगों की पसंदीदा गेमिंग ऐप ‘कॉल ऑफ़ ड्यूटी’ बन गई है। इसके अलावा लूडो किंग, कैरम बोर्ड ऐसे ऐप कि डिमांड काफी बढ़ी है। विश्लेषकों का मानना है कि बोर्डिंग बोर्ड गेम्स की बिक्री में लगभग 35% बढ़ोतरी हुई है। कुछ तो आउट ऑफ स्टॉक हो गए हैं।

स्ट्रीमिंग
कोरोना वायरस का प्रकोप दिसंबर से जारी है। इसके चलते लोग घरों में रहने को मजबूर हैं और जमकर ओटीटी प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर रहे हैं। इसके चलते नेटफ्लिक्स, डिज्नी + समेत अन्य ओटीटी प्लेटफार्म के प्रति लोगों का रुझान बढ़ा है। नेटफ्लिक्स की कमाई बढ़ने के साथ ही उसके सब्सक्राइबर बेस में बेतहाशा इजाफा दर्ज किया गया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक साल 2020 की पहली तिमाही में नेटफ्लिक्स के सब्सक्राइबर्स की संख्या में करीब 1.6 करोड़ का इजाफा दर्ज किया गया है। इस तीन माह के दौरान नेटफ्लिक्स प्लेटफॉर्म पर “टाइगर किंग” और “लव इज ब्लाइंड” जैसे रियल्टी शो सबसे ज्यादा देखे गए। नेटफ्लिक्स के कुल 182.8 मिलियन (18.2 करोड़) सब्सक्राइबर हैं, जो कि दुनिया के किसी भी एंटरटेनमेंट सर्विस के मुकाबले कहीं ज्यादा हैं। इसमें से करीब 2.3 मिलियन सब्सक्राइबर अमेरिका और कनाडा में है। साल 2020 की पहली तिमाही में नेटफ्लिक्स का मुनाफा दोगुना बढ़कर 709 मिलियन डॉलर (5434 करोड़ रुपए) हो गया है, जो कि साल 2019 के आखिरी तिमाही में 344 मिलियन डॉलर था। वहीं, कंपनी का रेवेन्यू 28 फीसदी बढ़कर 5.7 बिलियन हो गया है। वहीं, मार्च के अंत में यूके और अन्य मार्केट में लाॅन्च हुए डिज्नी+ के पास 33 मिलियन से अधिक ग्राहक थे। वहीं अब इसके पास लगभग 55 मिलियन यूजर्स हैं। इस समय डिज्नी+ नेटफ्लिक्स को कड़ी टक्कर दे रही है। बता दें कि लाॅकडाउन के चलते सभी सिनेमा घर बंद हैं।

मिक्स्ड बैग

फिटनेस
लाॅकडाउन में जिम बंद हैं। फिटनेस का कारोबार ठप है। ऐसे में जिम के प्रति डिमांड बढ़ने के चलते फिटनेस कंपनी ने अपनी सेवाओं को बदला है और वे वीडियो स्ट्रीमिंग में प्रवेश कर रही हैं। लोग फिटनेस पर ध्यान देने के लिए फिटनेस ऐप और वीडियो क्लासेस का सहारा ले रहे हैं। ज्यादातर फिटनेस कोच इंटरनेट पर वीडियो-स्ट्रीमिंग क्लासेस चला रहे हैं। इस बीच पेलोटन साइकिलिंग क्लास काफी पसंद किया जा रहा है। लाॅकडाउन के दौरान व्यायाम स्टार्टअप पेलोटन ने लोकप्रियता में विस्फोट किया है। यह अन्य लोकप्रिय साइकलिंग वर्कआउट की तरह नहीं है, जिसमें आमतौर पर एक स्टूडियो में कक्षाएं शामिल होती हैं। पेलोटन के साथ आप स्टूडियो-ग्रेड कसरत के लिए हजारों अन्य सदस्यों में शामिल हो सकते हैं। कंपनी ने इस साल काफी बेहतर प्रदर्शन किया है। पेलोटन के अलावा YouTuber जो विक्स ने अपने एट-होम वर्कआउट के साथ लोकप्रियता ने नए आयाम पर छुआ है। यूट्यूबर ने लाइवस्ट्रीम के लिए गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज किया है।

अमेजन
मौजूदा संकट के समय ज्यादातर लोग खरीदारी के लिए आॅनलाइन बेवसाइट्स पर निर्भर हैं। इस बीच दिग्गज ई-काॅमर्स कंपनी अमेजन को काफी फायदा हुआ है। लाॅकडाउन के दौरान अमेजन के संस्थापक जेफ बेजोस दुनिया के सबसे धनी व्यक्ति की लिस्ट में टाॅप पर पहुंच गए हैं। फोर्ब्स द्वारा जारी 2020 के अरबपतियों की लिस्ट के अनुसार बेजोस की कुल संपत्ति 113 अरब डॉलर है।बता दें कि अमेजन इंडिया ने अपने मंच से जुड़े लघु एवं मध्यम (एसएमबी) स्तर के लॉजिस्टिक कारोबारियों की मदद के लिए हाल ही में एक विशेष कोष का ऐलान किया था। कंपनी ने कहा था कि लॉकडाउन की वजह से एसएमबी वित्तीय तौर पर बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। यह कोष छोटे स्तर पर डिलिवरी और लॉजिस्टिक सेवाएं देने वाले उसके सहायकों और चुनिंदा मालवहन सहायकों की मदद करेगा। यह कोष उन्हें बंद की वजह से उभरी नई वास्तविकताओं के अनुरूप अपने कारोबारी मॉडल को ढालने में मदद करेगा।

लूजर

ट्रांसपोर्ट
इस समय हम गेम खेल रहे हैं, मूवी देख रहे हैं लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग के चलते बाहर नहीं निकल पा रहे हैं। इस वजह से ब्रिटेन में अप्रैल में कारों की बिक्री 97 फीसदी गिरी है। इसे 1946 के बाद की सबसे बड़ी मासिक गिरावट बताई जा रही है। आंकड़ों के मुताबिक, पिछले साल अप्रैल में 1,61,064 नई कारों का रजिस्ट्रेशन हुआ था, जो इस साल घटकर 4 हजार रह गया है। वहीं दूसरी तरफ ऐप आधारित कैब बुकिंग स्टार्टअप कंपनी उबर ने हजारों नौकरियों में कटौती कर रहा है। ई-स्कूटर भी दबाव में हैं, कुछ शहरों में परिचालन बंद करना पड़ा है।

टेक मिडलमैन
इसके अलावा इस समय किराए पर प्रॉपर्टी देने वाले सैन फ्रांसिस्को-आधारित स्टार्टअप एयरबीएनबी (AirBnB),ओयो, वीवर्क समेत कई कंपनियां आर्थिक संकट से जुझ रही हैं। यरबीएनबी इंक वैश्विक स्तर पर 1900 कर्मचारियों को नौकरी से निकालने का फैसला किया है। कंपनी अपने कुल वर्कफोर्स की संख्या का लगभग 25 फीसदी कर्मचारियों की छंटनी कर रही है। वहीं ओयो ने हजारों कर्मचारियों को लीव विदाउट पे पर भेजा है।