रियाल मैड्रिड के मार्सेलो ने गोल करने के बाद घुटने टेके, रंगभेद के खिलाफ विरोध जताया; रियाल ने आइबर को 3-1 से हराया

  • रियाल मैड्रिड की 6 मैच में यह दूसरी जीत, 9 मार्च को खेले गए पिछले मैच में रियाल बेटिस ने हराया था
  • पॉइंट टेबल में बार्सिलोना 61 अंक के साथ टॉप पर, जबकि मैड्रिड 2 पॉइंट के अंतर के साथ दूसरे नंबर पर है

दैनिक भास्कर

Jun 15, 2020, 09:58 AM IST

कोरोनावायरस के बीच स्पेन में फिर शुरू हुई फुटबॉल लीग ला लिगा में रियाल मैड्रिड ने जीत से शुरुआत की। 96 दिन बाद मैदान पर उतरी मैड्रिड ने आइबर को 3-1 से हराया। बगैर दर्शकों के खेली जा रही लीग में मैड्रिड के मार्सेलो ने गोल के बाद रंगभेद के खिलाफ विरोध जताया।

मार्सेलो ने जमीन पर घुटने टेक कर ब्लैक लाइव्स मैटर अभियान को सपोर्ट किया। उन्होंने टीम के लिए तीसरा गोल 37वें मिनट में किया था। इससे पहले टोनी क्रूस ने चौथे और सर्जियो रामोस ने 30वें मिनट में 1-1 गोल दागा था। आइबर के लिए एक गोल पेद्रो बिगास ने 60वें मिनट में किया था।

पॉइंट टेबल में दूसरे नंबर पर मैड्रिड
मैड्रिड की 6 मैच में यह दूसरी जीत है। टीम ने पिछला मैच 9 मार्च को खेला था, जिसमें रियाल बेटिस ने 2-1 से शिकस्त दी थी। इससे पहले मैड्रिड ने 2 मार्च को बार्सिलोना को 2-0 से हराया था। पॉइंट टेबल में बार्सिलोना 61 अंक के साथ टॉप पर है, जबकि मैड्रिड 2 पॉइंट के अंतर के साथ दूसरे नंबर पर काबिज है।

नंबर टीम मैच जीते हारे ड्रॉ पॉइंट
1 बार्सिलोना 28 19 5 4 61
2 रियाल मैड्रिड 28 17 3 8 59
3 सेविला 28 14 6 8 50
4 रियाय सोसिडाड 28 14 9 5 47
5 गेटाफे 28 13 8 7 46

बुंदेसलिगा में ऑग्सबर्ग ने मिंज को 1-0 से हराया
ला लिगा में दूसरा मुकाबला रियाल सोसिडाड और ओसासुना के बीच खेला गया। यह मुकाबला 1-1 से ड्रॉ रहा। वहीं, कोरोना के बीच फ्रांस में भी बुंदेसलिगा खेली जा रही है। इसमें रविवार को दो मैच खेले गए। पहले मुकाबले में ऑग्सबर्ग ने मिंज को 1-0 से हराया। जबकि दूसरा मैच शाल्के और लेवरकुसेन के बीच 1-1 से ड्रॉ खेला गया।

ईपीएल में ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ लिखी जर्सी पहनकर खेलेंगे खिलाड़ी
रंगभेद के खिलाफ लड़ाई में ला लिगा और इंग्लिश प्रीमियर लीग (ईपीएल) समेत दुनियाभर के सभी फुटबॉल खिलाड़ी भी शामिल हो गए हैं। बुधवार से शुरू हुए ईपीएल के शुरुआती 12 मैचों में फुटबॉलर अपने नाम की जगह ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ लिखी जर्सी पहनकर खेलने उतरेंगे। प्रीमियर लीग ने भी कहा है कि वह उन खिलाड़ियों का समर्थन करेगी जो घुटने के बल बैठकर विरोध जताएंगे।

अमेरिका में अश्वेत फ्लॉयड की मौत से शुरू हुआ कैंपेन
हाल ही में अमेरिका में अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस कस्टडी में मौत हो गई थी। उसी के बाद दुनियाभर में ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ कैंपेन शुरू हुआ। मिनेपोलिस शहर की पुलिस ने 25 मई को फ्लॉयड को धोखाधड़ी के आरोप में पकड़ा था। इस दौरान पुलिस अधिकारियों ने उन्हें हथकड़ी पहनाई और जमीन पर उल्टा लिटाकर उसकी गर्दन को घुटने से करीब 9 मिनट तक दबाए रखा। इससे जॉर्ज की सांसें रुक गईं और मौत हो गई। इसके बाद 40 से भी अधिक शहरों में हिंसक प्रदर्शन हुए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *