राइट्स इश्यू के जरिए 300 करोड़ रुपए जुटाएगा किशोर बियानी का फ्यूचर कंज्यूमर, बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने दी मंजूरी

  • राइट्स इश्यू के नियम और शर्तें तय करने के लिए बनेगी डायरेक्टर्स की कमेटी
  • फ्यूचर ग्रुप पर करीब 10 हजार करोड़ का कर्ज, इसे चुकाने में इस्तेमाल की जा सकती है राशि
  • राइट्स इश्यू में 6 रुपए की फेस वैल्यू पर नए इक्विटी शेयर जारी किए जाएंगे

दैनिक भास्कर

May 17, 2020, 11:06 AM IST

नई दिल्ली. किशोर बियानी के नेतृत्व वाले फ्यूचर ग्रुप की कंपनी फ्यूचर कंज्यूमर फंड का इंतजाम करने के लिए राइट्स इश्यू लाने की योजना बना रही है। बीएसई फाइलिंग के अनुसार, फ्यूचर कंज्यूमर राइट्स इश्यू के जरिए 300 करोड़ रुपए जुटाएगी। इस राइट्स इश्यू को कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने 16 मई को मंजूरी दे दी है।

नियम-शर्तें तय करने के लिए डायरेक्टर्स की कमेटी बनेगी
बीएससई फाइलिंग के मुताबिक इस राइट्स इश्यू के नियम और शर्तें तय करने के लिए डायरेक्टर्स की एक कमेटी बनाई जाएगी। यह कमेट राइट्स एंटाइटलमेंट अनुपात, इश्यू प्राइस, रिकॉर्ड डेट, भुगतान विकल्प, राइट्स इश्यू का समय और इससे संबंधित अन्य मुद्दे को तय करेगी। बीएसई फाइलिंग के मुताबिक इस राइट्स इश्यू में 6 रुपए की फेस वैल्यू पर इक्विटी शेयर जारी किए जाएंगे।

हाल ही में इंश्योरेंस कारोबार बेचने का ऐलान किया था

देश की बड़ी रिटेल कंपनियों में शुमार फ्यूचर ग्रुप ने हाल ही में अपने इंश्योरेंस कारोबार फ्यूचर जेनराली इंडिया इंश्योरेंस को बेचने की घोषणा की थी। इस कंपनी में फ्यूचर ग्रुप की करीब 50 फीसदी हिस्सेदारी है।

कर्ज मुक्ति के लिए नॉन-कोर एसेट्स की बिक्री कर रहा फ्यूचर ग्रुप

फ्यूचर ग्रुप पर करीब 10 हजार करोड़ रुपए का कर्ज है। इस ग्रुप में किशोर बियानी की करीब 90 फीसदी हिस्सेदारी है। कर्ज चुकाने के लिए फ्यूचर ग्रुप अपने नॉन-कोर एसेट्स की बिक्री कर रहा है। इसके अलावा किशोर बियानी अमेजन और प्रेमजी इवेस्ट जैसे निवेशकों से भी फंडिंग को लेकर बातचीत कर रहे हैं।

फ्यूचर कंज्यूमर की ओर से दी गई जानकारी