यात्रा प्रतिबंध और मानसून के कारण आईपीएल के 4 महीने तक होने के आसार कम; टी-20 वर्ल्ड कप टला तो अक्टूबर में हो सकती है लीग

  • गृह मंत्रालय की नई गाइडलाइन में स्टेडियम और स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स खोलने की छूट
  • घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानें 31 मई तक बंद, लिहाजा आईपीएल जैसे टूर्नामेंट नहीं हो सकेंगे
  • टीम इंडिया को अगले तीन महीने में श्रीलंका, जिम्बाब्बे के खिलाफ सीरीज खेलनी है, सितंबर में एशिया कप भी है

दैनिक भास्कर

May 18, 2020, 12:40 PM IST

गृह मंत्रालय ने रविवार रात लॉकडाउन के चौथे फेज के लिए गाइडलाइन जारी कर दी। इसमें स्टेडियम और स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स खोलने की मंजूरी तो दी। लेकिन घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध कम से कम 31 मई तक जारी रहेगा। ऐसे में घरेलू और विदेशी दोनों खिलाड़ी यात्रा नहीं कर सकेंगे। इसलिए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के अगले 4 महीने तक होने के आसार कम हैं। 

बीसीसीआई ने भी बयान जारी कर कहा है कि केंद्र सरकार ने 31 मई तक हवाई यात्रा पर लगी पाबंदियों को जारी रखा है। ऐसे में बोर्ड खिलाड़ियों की ट्रेनिंग या टूर्नामेंट शुरू करने को लेकर जल्दबाजी नहीं करेगा।

हम जल्दबाजी में ट्रेनिंग नहीं शुरू करेंगे: बीसीसीआई

बोर्ड कोषाध्यक्ष अरूण धूमल ने कहा ने कहा, “हमारे लिए खिलाड़ियों की सुरक्षा अहम है। ऐसा कोई फैसला नहीं लिया जाएगा, जिससे कोरोना से निपटने की भारत की कोशिशों पर असर पड़े।

1 जून से मानसून सीजन शुरू होता है

भारत में मानसून सीजन 1 जून से 30 सितंबर तक होता है। हालांकि, इस पैटर्न में बदलाव देखा जा रहा है। देश के ज्यादातर हिस्सों में यह 15 जून तक ही सक्रिय हो पाता है। इस बार भी केरल में मानसून 4 दिन की देरी से आएगा। आईपीएल के संदर्भ में बात करें तो मानसून को देखते हुए जून से मध्य अक्टूबर तक इसका भारत में होना लगभग नामुमकिन है।

सितंबर तक टीम इंडिया का व्यस्त शेड्यूल

टीम इंडिया को जून-जुलाई में श्रीलंका से उसी के घर में 3 वनडे और 3 टी-20 की सीरीज खेलनी है। इसके बाद अगस्त में जिम्बाब्वे दौरे पर 3 वनडे खेलने हैं। अगले महीने ही एशिया कप भी होना है। भारतीय टीम अगस्त के तीसरे हफ्ते से लेकर 15 नवंबर तक व्यस्त रहेगी। इस दौरान केवल 7 दिन का गैप रहेगा। अगर बीसीसीआई आईपीएल के लिए एक तरफा फैसला लेकर इन सीरीज को रद्द करता है, तो आईसीसी उसके खिलाफ कार्रवाई कर सकता है।

अक्टूबर में टी-20 वर्ल्ड कप 

इस साल ऑस्ट्रेलिया में टी-20 वर्ल्ड कप होना है। टूर्नामेंट 18 अक्टूबर से 15 नवंबर तक होगा।  अगर टी-20 वर्ल्ड कप टलता या रद्द होता है तो आईपीएल की संभावना नवंबर के आखिर से पूरे दिसंबर तक हो सकती है।

आईसीसी की बोर्ड मीटिंग में टी-20 वर्ल्ड कप फैसला

28 मई को इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल(आईसीसी) की बोर्ड मीटिंग होने वाली है। इसमें ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप की किस्मत को लेकर फैसला होगा। इस बैठक पर बीसीसीआई और आईपीएल फ्रेंचाइजियों की नजर है। 

फ्रेंचाइजी मालिकों का क्या कहना है

आईपीएल के फ्रेंचाइजी ओनर को अभी भी लीग के होने की उम्मीद है। लेकिन इससे पहले कई जमीनी काम हैं, जिसे टूर्नामेंट के आयोजन के लिए पूरा करना जरूरी है। चेन्नई फ्रेंचाइजी के सीईओ काशी विश्वनाथन का कहना है कि सरकार का आदेश सकारात्मक है। लेकिन हमें देखना होगा कि कब दर्शकों को स्टेडियम में आने की अनुमति मिलती है। अगर आपको यात्रा करने की अनुमति नहीं है तो आप कैसे खेलेंगे? अभी भी कंटेनमेंट जोन में कई तरह की पाबंदियां लागू हैं। 

बंद स्टेडियम में टूर्नामेंट होने की उम्मीद: केकेआर

कोलकाता फ्रेंचाइजी के सीईओ वैंकी मैसूर ने कहा- मुझे लगता है कि साल के अंत तक हालात सुधार जाएंगे, तब लीग कराई जा सकती है। अगर हम आईपीएल को कराने में सफल रहे तो यह मानकर चलिए कि टूर्नामेंट बंद स्टेडियम में ही होगा। दुनिया में जहां भी खेल गतिविधियां शुरू हुई हैं। वहां यही तरीका अपनाया गया है। यह सही है कि इसके कारण टिकट से होने वाली कमाई, फूड औऱ बेवरेज और टीम से जुड़े सामान से होने वाली कमाई पर असर पड़ेगा। 

गेंद सरकार और बोर्ड के पाले में: किंग्स इलेवन पंजाब 

पंजाब के सीईओ सतीश मेनन का कहना है कि अब बीसीसीआई और सरकार को यह तय करना है कि क्या वे आईपीएल का 13वां सीजन कराना चाहते हैं या नहीं। मुझे लगता है कि खिलाड़ियों और देश की सुरक्षा सर्वोपरि है। अगर आईपीएल खाली स्टेडियम में होता है तो भी खिलाड़ियों, फ्रेंचाइजियों को इससे खुशी ही होगी। 

खिलाड़ियों का इस पर क्या कहना है
खाली स्टेडियम में मैच कराने को लेकर भारतीय कप्तान विराट कोहली का कहना है कि ईमानदारी से कहूं तो हमें दर्शकों की भीड़ के सामने खेलने की आदत है। ऐसे में अगर बगैर फैन्स के मैच होते हैं तो हैं पता नहीं खिलाड़ी इसे कैसे लेंगे। लेकिन विदेशों में भी टूर्नामेंट ऐसे ही शुरू हो रहे हैं। 

बिना दर्शकों के खेलने को तैयार: कमिंस

वहीं, आईपीएल-13 की नीलामी में सबसे महंगे 15.5 करोड़ में बिके ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज पैट कमिंस को उम्मीद है कि आईपीएल इस साल होगा। वे पहले भी कह चुके हैं कि पहली प्राथमिकता लोगों और खिलाड़ियों की सुरक्षा है, जबकि दूसरा हालात सामान्य होना है। अगर इसका मतलब यह है कि हमें कुछ समय के लिए बिना दर्शकों के खेलना पड़े तो इसे मंजूर करना चाहिए। क्योंकि लोग तब भी घऱ बैठे तो मैच देख ही सकेंगे। 
आईपीएल की 8 टीमों में 64 विदेशी खिलाड़ी
आईपीएल की 8 टीमों में 189 खिलाड़ी हैं। इनमें 64 विदेशी हैं। इनका अब 31 मई तक भारत आना नामुमकिन है, क्योंकि देश में सभी प्रकार की घरेलू और विदेशी उड़ानों पर रोक है। साथ ही विदेशी बोर्ड भी अपने खिलाड़ियों को कोरोना रुकने तक भारत आने की अनुमति नहीं देंगी। 

आईपीएल रद्द करने से 3 हजार करोड़ का नुकसान
बीसीसीआई कोषाध्यक्ष अरूण धूमल पहले ही कह चुके हैं कि आईपीएल को सीधे रद्द नहीं किया जा सकता है। अगर टूर्नामेंट रद्द होता है, तो करीब 3 हजार करोड़ रुपए का नुकसान होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *