मसाला कंपनी सनराइज फूड्स का अधिग्रहण करेगी आईटीसी, 2000 करोड़ रुपए के निवेश की संभावना

  • इस अधिग्रहण से आईटीसी को चाट मसाला कारोबार के विस्तार में मदद मिलेगी
  • सनराइज फूड्स चाट मसाला कैटेगिरी में पूर्वी भारत में बाजार लीडर है

दैनिक भास्कर

May 25, 2020, 10:00 AM IST

नई दिल्ली. एफएमसीजी समेत कई प्रकार के कारोबार करने वाली आईटीसी लिमिटेड ने कहा है कि वह चाट मसाला कंपनी सनराइड फूड्स प्राइवेट लिमिटेड की 100 फीसदी इक्विटी का अधिग्रहण करेगी। इस संबंध में दोनों कंपनियों में शेयर खरीद समझौता हो गया है। रेगुलेटरी फाइलिंग में आईटीसी ने कहा है कि इस प्रस्तावित अधिग्रहण से उसका प्रोडक्ट पोर्टफोलियो बढ़ेगा और कंपनी को अपने चाट मसाला कारोबार के विस्तार में मदद मिलेगी।

तेलंगाना और आंध्र प्रदेश का मार्केट लीडर है आईटीसी

आईटीसी लिमिटेड ने कहा कि दोनों कंपनियों में 23 मई को 100 फीसदी इक्विटी शेयर कैपिटल खरीदने को लेकर समझौता हुआ है। हालांकि, इस प्रस्तावित अधिग्रहण को जरूरी नियामकीय मंजूरी लेना अभी बाकी है। आईटीसी के आशीर्वाद ब्रांड के चाट मसाले तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में मार्केट लीडर हैं। आईटीसी ने कहा कि इस प्रस्तावित अधिग्रहण से उसे अपने एफएमसीजी कारोबार को तेजी से बढ़ाने में मदद मिलेगी। उद्योग से जुड़े सूत्रों के मुताबिक, जेएम फाइनेंशियल इस अधिग्रहण में सनराइज का विशेष सलाहकार है।

2000 करोड़ रुपए के निवेश की उम्मीद

आईटीसी लिमिटेड ने इस अधिग्रहण की राशि का खुलासा नहीं किया है। लेकिन सूत्रों का कहना है आईटीसी इस सौदे में 1800 से 2000 करोड़ रुपए का निवेश कर सकती है। आईटीसी ने एक बयान में कहा है सनराइज फूड्स पूर्वी भारत में चाट मसाला कैटेगिरी का मार्केट लीडर है और इस ब्रांड की 70 साल की बाजार विरासत है। कंपनी ने कहा कि सनराइज के पास लॉयल उपभोक्ता फ्रेंचाइजी है जिसके पोर्टफोलियो में स्थानीय स्वाद के अनुसार उत्पादों की भरमार है।