मल्टीनेशनल कंपनियों के कर्मचारी जारी रखेंगे ‘वर्क फ्राॅम होम’, कंपनियों ने कहा- मौजूदा हालात में दफ्तर से काम करना मुश्किल 

  • कुछ फीसदी स्टाफ दफ्तर से काम शुरू करने पर भी विचार कर रहा है
  • कंपनी ने बैक टू ऑफिस टास्क फोर्स स्थापित किया है

दैनिक भास्कर

Jun 02, 2020, 05:41 PM IST

नई दिल्ली. कोरोनावायरस के चलते दुनियाभर के लाखों-करोड़ों कर्मचारी वर्क फ्राॅम होम कर रहे हैं। मजबूरी में शुरू की गई वर्क फ्राॅम होम अब कंपनियों को रास आने लगी है। यही वजह है कि ज्यादातर मल्टीनेशनल कंपनियों के भारत में मौजूद दफ्तर ने अपने स्टाफ से घर से काम जारी रखने को कहा है। कोका कोला, पेप्सी, नेस्ले, एलजी और रैकिट बेंकाइजर समेत अन्य कंपनियों का मानना है कि जब तक कोरोनावायरस से होने वाली मौत की संख्या में कमी नहीं आती और ऑफिस से जब तक इस बारे में कोई आधिकारिक आदेश जारी नहीं होता तब तक स्टाफ को घर से काम करते रहेंगे। 

घर से काम करना ही बेहतर विकल्प 

कोका-कोला इंडिया के प्रवक्ता ने कहा की मौजूदा हालात को देखते हुए घर से काम करना बेहतर विकल्प है। कंपनी ने कहा कि हम स्थितियों की समीक्षा कर रहे हैं और उसे अपने स्टाफ को निर्देश दे रहे हैं। हालांकि, कंपनी कुछ फीसदी स्टाॅफ के साथ दफ्तर से काम शुरू करने पर भी विचार कर रही है। इसके लिए कंपनी ने एक बैक टू ऑफिस टास्क फोर्स स्थापित किया है जो कि सुरक्षा मानक, सरकार के सोशल डिस्टेंसिंग के गाइडलाइन का पालन करने का काम कर रहा है। 

तीन फेज में खुलेगा दफ्तर 

हिंदुस्तान युनिलीवर, प्रॉक्टर एंड गैंबल (P&G) और कोलगेट जैसी कंपनियों ने अब तक यह फैसला नहीं किया है कि दफ्तर से कामकाज शुरू किया जाएगा या नहीं। इन कंपनियों के एग्जीक्यूटिव ने कहा, ‘कंपनी 3 फेज में दफ्तर खोलने की योजना बना रही है। पहले फेज में रिसर्च एंड डेवलपमेंट टीम को काम करने की इजाजत दी जाएगी, जबकि बाद में सेल्स और मार्केटिंग डिपार्टमेंट से जुड़े स्टाफ को काम करने के लिए बुलाया जा सकता है। 

गुड़गांव और नोएडा के प्रशासन ने पिछले महीने ही अपने दफ्तर एक तिहाई स्टाफ के साथ खोलने की अनुमति दी थी लेकिन उन्होंने दिल्ली आने-जाने पर रोक लगा दी है। गुड़गांव ने पिछले हफ्ते लॉक डाउन में थोड़ी ढील दी है लेकिन सोमवार को दिल्ली ने अपना बॉर्डर सील कर दिया है। इस वजह से गुड़गांव में काम करने वाले और दिल्ली में रहने वाले स्टाफ अब दफ्तर से कामकाज नहीं कर पाएंगे।