भारतीय स्टार अमृतराज ने कहा- कोरोना ने खेल जगत की आर्थिक स्थिति बिगाड़ी; फेडरर, जाकोविच और नडाल को फर्क नहीं पड़ेगा

  • विजय अमृतराज ने कहा- 100 से बाहर के रैंक वाले टेनिस खिलाड़ियों को आर्थिक संकट का सामना करना पड़ेगा
  • ‘भारतीय टेनिस खिलाड़ियों पर भी असर पड़ेगा, उन्हें वापसी के लिए फिटनेस और पैसे की तंगी से जूझना पड़ेगा’

दैनिक भास्कर

May 20, 2020, 05:11 PM IST

भारत के पूर्व टेनिस लेजेंड विजय अमृतराज ने कहा है कि कोरोनावायरस के कारण 100 से बाहर की रैंक के खिलाड़ियों को आर्थिक संकट से जूझना पड़ेगा। अमृतराज तमिलनाडु टेनिस एसोसिएशन के अध्यक्ष हैं। उन्होंने कहा कि टेनिस प्रोफेशनल टूर्नामेंट नहीं हो रहे हैं। पुरुषों का टूर्नामेंट भी 20  जुलाई से पहले शुरू होने के आसार नहीं दिख रहे हैं।

कोरोना के कारण खेल फेडरेशनों और कई खिलाड़ियों को आर्थिक संकट का सामना करना पड़ रहा है। लेकिन इसका असर दुनिया के टॉप-3 टेनिस स्टार रोजर फेडरर, नोवाक जाकोविच और राफेल नडाल पर नहीं पड़ेगा। फेडरर ने 20, नडाल ने 19 और जोकोविच ने 17 ग्रैंड स्लैम जीते हैं।

100 से ऊपर रैंक वाले टेनिस खिलाड़ियों पर पड़ा है असर

अमृतराज ने कहा, ‘‘कोरोना के कारण विश्व के सभी टेनिस खिलाड़ी किसी न किसी रूप में इससे प्रभावित हैं। सभी अपने-अपने तरीके से इसे उभरने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। निचली रैंक वाले भारतीय टेनिस खिलाड़ी भी कोरोना से ज्यादा प्रभावित हुए हैं। वापसी करने में फिटनेस के साथ आर्थिक संकट उनके लिए बड़ी समस्या होगी। लेकिन उन्हें इन सबसे संघर्ष कर वापसी करना होगा।  हालांकि, यह आसान नहीं है।’’

यूएस ओपन और फ्रेंच ओपन के लिए उम्मीदें बरकरार
उन्होंने कहा, ‘‘जब भी टेनिस शुरू होगी, लोगों को खिलाड़ियों का लाइव एक्शन सामने से देखने को नहीं मिलेगा। मेरा मानना है कि इस साल टेनिस शुरू होना संभव नहीं लग रहा, लेकिन यह सब विभिन्न देशों की परिस्थितियों पर निर्भर करता है। इस साल विंबलडन रद्द कर दिया गया है। यूएस ओपन और फ्रेंच ओपन के लिए अभी उम्मीदें बरकरार हैं। इसके लिए इंतजार करना होगा।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *