बीसीसीआई समिति के सदस्य गायकवाड़ ने कहा- इस साल टी-20 वर्ल्ड कप मुश्किल, अक्टूबर-नवंबर में हो सकता है आईपीएल

  • बीसीसीआई अपेक्स काउंसिल के सदस्य अंशुमन गायकवाड़ ने कहा- आईपीएल के लिए भी परिस्थिति ठीक होनी चाहिए
  • टी-20 वर्ल्ड कप ऑस्ट्रेलिया में 18 अक्टूबर से 15 नवंबर तक होगा, 29 मार्च से होने वाला आईपीएल अनिश्चितकाल के लिए टला

दैनिक भास्कर

May 20, 2020, 04:44 PM IST

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) अपेक्स काउंसिल के सदस्य अंशुमन गायकवाड़ ने कहा कि इस साल ऑस्ट्रेलिया में टी-20 वर्ल्ड कप होना मुश्किल लग रहा है। उसकी जगह अक्टूबर-नवंबर में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) कराया जा सकता है।

टी-20 वर्ल्ड कप इस साल ऑस्ट्रेलिया में 18 अक्टूबर से 15 नवंबर तक होना है। जबकि आईपीएल के 13वें सीजन को 29 मार्च से होना था, लेकिन कोरोनावायरस और लॉकडाउन के कारण इसे अनिश्चितकाल के लिए टाल दिया गया है।

‘आईपीएल के लिए इस साल एक ही विंडो है’
गायकवाड़ ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि इस साल टी-20 वर्ल्ड कप नहीं हो पाएगा। आईपीएल के बारे में हम अभी कुछ नहीं कह सकते। यह टूर्नामेंट होना या नहीं होना, भारत की परिस्थिति पर निर्भर करेगा। इसके लिए इस साल सिर्फ एक ही विंडो है और वह टी-20 वर्ल्ड कप की जगह अक्टूबर-नवंबर है। यदि वर्ल्ड कप रद्द होता है या फिर टलता है, तो उस स्थिति में सिर्फ आईपीएल ही कराया जा सकता है। लेकिन तब भी यह यह देखना होगा कि उस वक्त भारत के हालात क्या हैं।’’

‘क्रिकेटर्स खाली मैदान में खेलने के आदी नहीं’
गायकवाड़ को लगता है कि कोरोना के बाद विश्व में लोगों के लिए एक नई जिंदगी होगी। खिलाड़ियों को मैदान पर उतरने के लिए मानसिक रूप से मजबूत होना होगा। उन्होंने कहा, ‘‘जैसा क्रिकेट अब तक खेला जाता रहा है, यह अब वैसा नहीं रहेगा। अब स्टेडियम में दर्शक नहीं होंगे। क्रिकेटर्स खाली मैदान में खेलने के आदी नहीं हैं। क्रिकेट के इस नए तरह के खेल को स्वीकार करना बहुत मुश्किल होगा।’’

‘क्रिकेट के लिए 4 महीने से भी ज्यादा समय लग सकता है’
उन्होंने कहा, ‘‘क्रिकेट को दोबारा से शुरू करने के लिए अब हमें दो महीने या चार महीने या उससे भी ज्यादा का समय और लग सकता है। यह कोई पढ़ाई नहीं है, जिसे आप पढ़ेंगे और फिर लिख देंगे। आपको मैदान पर उतरकर प्रदर्शन करना होगा। यह किसी के लिए भी आसान नहीं होगा।’’ अंशुमन भारत के लिए 40 टेस्ट और 15 वनडे खेल चुके हैं। बीसीसीसी की एपेक्स काउंसिल में कुल 9 मेंबर्स हैं, जिनमें से एक गायकवाड़ हैं।

अब 37 दिन का हो सकता है आईपीएल शेड्यूल
इस बार आईपीएल 50 दिन की बजाए 44 दिन का होना था। सभी 8 टीमों को 9 शहरों में 14-14 मैच खेलने हैं। इनके अलावा 2 सेमीफाइनल, 1 नॉकआउट और 24 मई को वानखेड़े में फाइनल होना था, लेकिन बीसीसीआई अब इसका फॉर्मेट और छोटा करके 2009 की तरह 37 दिन का कर सकती है। 2009 में लोकसभा चुनाव के कारण आईपीएल दक्षिण अफ्रीका में खेला गया था। यह पांच सप्ताह और दो दिन के अंदर खत्म हो गया था।

व्यस्त शेड्यूल एक बड़ी समस्या रहेगी
भारत का व्यस्त शेड्यूल भी आईपीएल के लिए बड़ी बाधा रहेगा। टीम इंडिया को जून-जुलाई में श्रीलंका से उसी के घर में 3 वनडे और 3 टी-20 की सीरीज खेलनी है। इसके बाद अगस्त में जिम्बाब्वे दौरे पर 3 वनडे खेलने हैं। सितंबर में पाकिस्तान की मेजबानी में दुबई में एशिया कप होना है। सितंबर-अक्टूबर में इंग्लैंड भारत दौरे पर 3 वनडे और 3 टी-20 की सीरीज खेलेगी।

इसके बाद अक्टूबर में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाएगी, जहां वर्ल्ड कप से पहले 3 टी-20 की सीरीज होनी है। ऐसे में यदि बीसीसीआई आईपीएल के लिए एक तरफा फैसला लेकर इन सीरीज को रद्द करता है, तो आईसीसी उसके खिलाफ कार्रवाई कर सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *