पूर्व वर्ल्ड चैम्पियन मैकग्रेगर ने 4 साल में तीसरी बार संन्यास की घोषणा की, फैन्स को कहा-अद्भुत यादों के लिए शुक्रिया

  • पिछले साल मार्च में भी कोनोर मैकग्रेगर ने एमएमए से संन्यास का ऐलान किया था, लेकिन इसी साल जनवरी में रिंग में वापसी की
  • उन्होंने अमेरिकन फाइटर डोनाल्ड सेरोन को सिर्फ 40 सेकेंड में ही नॉकआउट कर दिया था

दैनिक भास्कर

Jun 07, 2020, 01:22 PM IST

आयरलैंड के मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स (एमएमए) खिलाड़ी कोनोर मैकग्रेगर ने संन्यास की घोषणा कर दी। यह चार साल में तीसरा मौका है, जब मैकग्रेगर ने खेल को अलविदा कहने की बात कही है।

उन्होंने मां के साथ अपनी एक पुरानी तस्वीर ट्वीट करते हुए कहा- मैंने फाइटिंग से संन्यास लेने का फैसला लिया है। अद्भुत यादों के लिए आप सभी का शुक्रिया। यह लास वेगास में मां के साथ मेरी वर्ल्ड टाइटल जीतने के बाद की तस्वीर है। अपने सपनों का घर बनाइए। मैं आप सभी से प्‍यार करता हूं। जिस भी चीज की आप ख्‍वाहिश करें, वो आपको मिले। 

मैकग्रेगर दो बार के वर्ल्ड चैम्पियन हैं

वे मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स के सबसे लोकप्रिय खिलाड़ी हैं और दो बार यूएफसी की अलग-अलग वेट कैटेगरी (लाइट और फेदरवेट) में वर्ल्ड चैम्पियन रह चुके हैं। 

इसी साल जनवरी में दोबारा रिंग में वापसी की

इस यूएफसी स्टार ने पिछले साल मार्च में भी एमएमए से संन्यास का ऐलान किया था। तब उन्होंने कहा था- मैंने एमएमए से संन्यास लेने का फैसला किया है। मैं अपने सभी पुराने साथियों को भविष्य के लिए शुभकामना देता हूं।

हालांकि, इस साल की शुरुआत में उन्होंने अपने संन्यास के फैसले पर यू-टर्न लेते हुए कहा था- मैं अपने फैन्स के विश्वास के सहारे आगे बढ़ना चाहता हूं। यह हमें बेहतर बनने की चुनौती देता है। इस साल जनवरी में उन्होंने रिंग में दोबारा वापसी की और लास वेगास में अमेरिकन फाइटर डोनाल्ड सेरोन को सिर्फ 40 सेकेंड में ही नॉकआउट कर दिया। 

पहली बार 2016 में संन्यास की घोषणा की थी

इससे पहले मैकग्रेगर ने अप्रैल 2016 में भी एमएमए से संन्यास लेने की घोषणा कर सभी फैन्स को चौंका दिया था। तब भी उन्होंने कहा था- मैं बतौर युवा खिलाड़ी ही खेल को अलविदा कहना चाहता हूं। आपके प्यार के लिए शुक्रिया। आपसे आगे मिलता रहूंगा। हालांकि, इसके बाद भी उन्होंने मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स चैम्पियनशिप में हिस्सा लेना जारी रखा। हालांकि, चार महीने बाद उन्‍होंने वापसी की और एडी अल्‍वारेज को मात देकर यूएफसी लाइटवेट चैंपियनशिप का खिताब जीता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *