पिछले 10 दिन में 129% की बढ़त के बाद आज 15% फिसले वोडाफोन आइडिया के शेयर, टेलीकॉम इंडस्ट्री की बेहतर परफॉर्मेंस की ये है वजह

  • वोडाफोन आइडिया सर्वाधिक मार्केट कैपिटलाइजेशन वाली टॉप 100 कंपनियों के क्लब में शामिल हो चुकी है
  • रिपोर्ट के मुताबिक वोडाफोन आइडिया में गूगल और एयरटेल में अमेजन द्वारा हिस्सेदारी खरीदने की बात चल रही है

दैनिक भास्कर

Jun 09, 2020, 04:40 PM IST

मुंबई. इस महीने टेलीकॉम सेक्टर में जबरदस्त उछाल देखने को मिला है। खासकर वोडाफोन आइडिया के शेयर पिछले 10 दिन में 129 प्रतिशत तक ऊपर है। हालांकि, आज ट्रेडिंग के दौरान इसमें 15 प्रतिशत तक की गिरावट आ गई। सोमवार को 11.99 रुपए पर बंद हुए शेयर आज 0.5 रुपए ऊपर 12.49 रुपए पर खुला। लेकिन ट्रेडिंग के दौरान इसमें 2.58 रुपए की गिरावट आ गई, जिसके चलते ये 9.41 रुपए तक पहुंच गया।

1 से 8 जून तक टेलीकॉम सेक्टर का प्रदर्शन

वोडाफोन आइडिया के शेयर पिछले 1 साल के दौरान 2.61 रुपए के न्यूनतम स्तर पर और 13.54 रुपए के अधिकतम स्तर पर पहुंचे हैं। वहीं, बीते सप्ताह कंपनी फिर से सर्वाधिक मार्केट कैपिटलाइजेशन (एमकैप) वाली टॉप 100 कंपनियों के क्लब में शामिल हो चुकी है। 

कंपनी के स्टॉक बढ़ने का कारण
बीते सप्ताह गूगल द्वारा कंपनी में 5 फीसदी हिस्सेदारी लेने की बातें सामने आई थीं। जिसके बाद वोडाफोन आइडिया के शेयरों में 80.75 फीसदी का उछाल आया था। 28 मई को कुछ मीडिया रिपोर्टों में यह बात कही गई थी कि गूगल, वोडाफोन आइडिया में 5 फीसदी हिस्सेदारी लेना चाहती है। उस दिन कंपनी के शेयर बीएसई पर 5.82 रुपए पर बंद हुए थे। वोडाफोन आइडिया पर 1.03 लाख करोड़ रुपए का कर्ज है। इसके अलावा एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू (एजीआर) के भी इसे 45,000 करोड़ रुपए चुकाने हैं।

वोडाफोन आइडिया के शेयर का आज का प्रदर्शन

भारती एयरटेल के शेयरों में भी बढ़त
जून के पहले सप्ताह के दौरान भारती एयरटेल के शेयरों में भी शानदार उछाल देखने को मिला है। 1 जून के कंपनी के शेयर 559.05 रुपए थी, जो 8 जून को बढ़कर 584.75 रुपए तक पहुंच गए। यानी इसमें 25.7 रुपए का उछाल देखने को मिला।

भारती एयरटेल के शेयर का 1 से 8 जून तक का प्रदर्शन

दरअसल, न्‍यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक एयरटेल और अमेरिकी ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन के बीच एक बड़ी डील की बात चल रही है। खबरों के मुताबिक अमेजन, एयरटेल में दो अरब डॉलर का निवेश कर सकती है। इस खबर से एयरटेल के शेयरों में भी उछाल बना हुआ है।

जियो ने अपनी 21.6% हिस्सेदारी बेची

22 अप्रैल को फेसबुक ने रिलायंस इंडस्ट्रीज और जियो प्लेटफॉर्म्स लिमिटेड के 9.99% हिस्सेदारी खरीद ली। जिसके बाद जियो के शेयर में उछाल देखने को मिली था। वहीं, अब तक कंपनी अपनी 21.6% हिस्सेदारी बेच चुकी है। रविवार, 7 जून को जियो में अबूधाबी इनवेस्टमेंट अथॉरिटी (एडीआईए) ने 5,683.50 करोड़ रुपए का निवेश किया है। यह निवेश 4.91 लाख करोड़ रुपए के इक्विटी वैल्यू और 5.16 लाख करोड़ रुपए के इंटरप्राइज वैल्यू पर किया गया है। जियो में सात हफ्ते से कम समय में कुल निवेश 97,885.65 करोड़ रुपए हो गया है।