दिनेश कार्तिक ने कहा- खाली स्टेडियम में खेलकर ही बड़े हुए, हमारे लिए यह नई बात नहीं

  • कोरोनावायरस और लॉकडाउन के कारण 29 मार्च से होने वाले आईपीएल को अनिश्चितकाल के लिए टाला
  • विकेटकीपर दिनेश कार्तिक ने आईपीएल की अपनी ऑलटाइम प्लेइंग-11 टीम में धोनी को नहीं चुना

दैनिक भास्कर

Apr 24, 2020, 01:48 PM IST

नई दिल्ली. भारतीय विकेटकीपर दिनेश कार्तिक ने कहा है कि उन्हें खाली स्टेडियम में आईपीएल या अन्य मैच खेलने को लेकर कोई परेशानी नहीं है। कार्तिक ने कहा कि कई भारतीय खिलाड़ी खाली स्टेडियम में ही खेलकर बड़े होते हैं, इसलिए यह उनके लिए बड़ी बात नहीं है। दरअसल, कोरोनावायरस और लॉकडाउन के कारण बीसीसीआई ने 14 अप्रैल को ही आईपीएल को अनिश्चितकाल के लिए टाल दिया है। पहले यह टूर्नामेंट 29 मार्च से 15 अप्रैल तक टाला गया था। आईपीएल का दिसंबर से पहले होना मुश्किल नजर आ रहा है। कई दिग्गज अनुमान लगा रहे हैं कि यह टूर्नामेंट बगैर दर्शकों के ही कराया जा सकता है।

कार्तिक आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) टीम के कप्तान भी हैं। उन्होंने इंग्लैंड की पूर्व महिला खिलाड़ी ईशा गुहा के साथ इंस्टाग्राम पर चैटिंग की। इस दौरान कार्तिक ने कहा, ‘‘हमने आईपीएल कभी बिना दर्शकों के नहीं खेला है, इसलिए यह निश्चित तौर पर थोड़ा अजीब होगा। हालांकि, घरेलू क्रिकेट में हम बिना दर्शकों के ही मैच खेलकर बड़े हुए हैं।’’

‘कमेंटेटर्स की टिप्पणी से कई खिलाड़ी आहत होते हैं’
कई बार क्रिकेट कमेंटेटर खिलाड़ियों के प्रति विवादास्पद टिप्पणी कर देते हैं। इस पर कार्तिक ने कहा, ‘‘कमेंटेटर्स खिलाड़ी के तौर पर किसी के बारे में बात करते हैं, तो कई बार उन प्लेयर्स को बुरा लगता है। वे आहत होते हैं। मुझे लगता है इसमें एक और बात यह भी है कि वे आपके बारे बात नहीं करेंगे, मतलब आप इतने योग्य नहीं हो। मुझे इयान चैपल (पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी) का एक इंटरव्यू याद है, जिसमें एक खिलाड़ी उनसे आकर पूछता है कि आपने मेरे बारे में ऐसा क्यों कहा। इस पर चैपल ने कहा था कि तुम्हारा काम खेलना है और मेरा काम बात करना। चलो अपना अपना काम करते हैं।’’

ऑलटाइम प्लेइंग-11 टीम में धोनी को नहीं चुन पाने का अफसोस
एक दिन पहले ही कार्तिक ने आईपीएल की अपनी ऑलटाइम प्लेइंग-11 टीम चुनी थी। इस टीम को चुनने के साथ यह शर्त थी कि वह सिर्फ उन खिलाड़ियों को ही शामिल कर सकते हैं, जिनके साथ वह खेले हों। कार्तिक आईपीएल के अपने सफर में अब तक 6 टीम के लिए खेल चुके हैं। वे चेन्नई के लिए नहीं खेल सके। ऐसे में कार्तिक ने अपनी टीम में महेंद्र सिंह धोनी और रविचंद्रन अश्विन को शामिल नहीं किया। क्रिकेट वेबसाइट क्रिकबज से बात करते हुए कार्तिक ने इसके लिए अफसोस भी जताया था।

ऑलटाइम प्लेइंग-11 टीम

वीरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर, विराट कोहली, रोहित शर्मा, दिनेश कार्तिक, आंद्रे रसेल, सुनील नरेन, ग्लेन मैकग्रा, जसप्रीत बुमराह, मिशेल स्टार्क और युजवेंद्र चहल।

‘चेन्नई ने मेरी जगह धोनी को चुना, मुझे इस बात का अब तक दुख है’
आईपीएल के 13 साल के इतिहास में दिनेश कार्तिक 6 टीमों के साथ खेले, लेकिन कभी भी अपनी घरेलू टीम चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए नहीं खेल सके। चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी हैं। इस पर कार्तिक ने कहा, ‘‘2008 में मुझे भरोसा था कि मैं देश और चेन्नई के लिए खेल रहा हूं, इसलिए सीएसके मुझे जरूर चुनेगी। मुझे कप्तान बनाएंगे या नहीं, बस यही सवाल मेरे मन में चल रहा था। हालांकि, चेन्नई ने धोनी को सबसे पहले 6 करोड़ रुपए में खरीदा। मुझे इस बात का बहुत दुख हुआ था। मुझे उम्मीद थी कि बाद में कभी मुझे चुनेंगे, लेकिन 13 साल से मैं चेन्नई के बुलावे का इंतजार कर रहा हूं।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *