ड्राइवर और राइडर की सुरक्षा के लिए उबर ऐप में जोड़ा गया इन-ऐप सेफ्टी फीचर, ड्राइवर को ट्रेंड करने के साथ लाखों पीपीआई किट्स भी दिए गए

  • बर ने ड्राइवर्स को देने के लिए 3 मिलियन से ज्यादा फेस मास्क, 1.2 मिलियन शॉवर कैप और सैनिटाईजर्स मंगाए हैं
  • पीपीई किट्स की डिलीवरी ग्रीन एवं ऑरेंज जोन में लॉकडाउन में छूट दिए जाने के साथ ही शुरू कर दी गई थी

दैनिक भास्कर

May 15, 2020, 08:08 PM IST

नई दिल्ली. ऑनलाइन कैब एग्रीगेटर उबर राइडर्सऔर ड्राइवर्स की सुरक्षा के लिए अपने ऐप में नया सेफ्टी फीचर जोड़ने पर विचार कर रही हैं। वहीं, कंपनी ने लाखों ड्राइवर्स को पीपीई किट्स बांटें हैं। इसके साथ ही सेफ्टी अवेयरनेस के लिए एजुकेशन वीडियो की क्लासेस दी जा रही है।

ऐप के जरिए ड्राइवर को मिलेगा पीपीआई किट्स
कंपनी का मानना है कि नए इन-ऐप सेफ्टी फीचर से ड्राइवर्स को एक निश्चित संख्या में ट्रिप्स पूरी कर लेने के बाद अपनी पीपीई सप्लाई को पुन:एकत्रित करने की सूचना मिलेगी। इस सूचना में सुविधाजनक पिकअप प्वाइंट्स की लिस्ट दी जाएगी तथा जब वो अपने लिए सुविधाजनक प्वाइंट्श् चुन लेंगे, तब उन्हें एक क्यूआर (QR) कोड मिलेगा। पिकअप के स्थान पर एक उबर कार्यकर्ता इस क्यूआर कोड को स्कैन करेगा और पीपीई सप्लायर ड्राइवर को किट देगा।

ड्राइवर्स खरीद सकते हैं पीपीआई किट्स, कंपनी करेगी भुगतान
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, उबर ने 3 मिलियन से ज्यादा फेस मास्क, 1.2 मिलियन शॉवर कैप, 200,000 बोतल डिसइन्फैक्टेंट और सैनिटाइजर्स मंगाए हैं, जो भारत में ड्राइवर पार्टनर्स को नि:शुल्क दिए जाएंगे। अगर ड्राइवर आवश्यक पीपीई खुद मंगाना चाहते हैं, तो उबर इसके बदले में उन्हें भुगतान करेगी। बता दें कि पीपीई किट्स की डिलीवरी ग्रीन एवं ऑरेंज जोन में लॉकडाउन में छूट दिए जाने के साथ ही शुरू कर दी गई थी।

‘सुरक्षा प्रोटोकॉल्स के बारे में ड्राइवर्स को शिक्षित कर रहें’
सुरक्षा के नए व सख्त उपायों की घोषणा करते हुए हेड ऑफ सेंट्रल ऑपरेशंस उबर इंडिया एसए पवन वैश ने कहा कि ‘हमारे प्लेटफॉर्म का उपयोग करने वाले हर व्यक्ति की सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है। हमने इस महामारी के शुरुआती चरण में ही मिलियन मास्क एवं सैनिटाइजर्स का ऑर्डर दे दिया था। हम कोविड-19 से जुड़े सुरक्षा प्रोटोकॉल्स के बारे में ड्राइवर्स को शिक्षित कर रहे हैं और उन्हें बता रहे हैं कि वो खुद की एवं अपने राइडर्स की सुरक्षा के लिए वाहन का सैनिटाइजेशन एवं हाइजीन कैसे बनाकर रखें।’

ओला-उबर ने ग्रीन और ऑरेंज जोन शहरों में फिर शुरू की सेवाएं
हाल ही में ओला और उबर ने ऑरेंज जोन और ग्रीन जोन में सर्विस शुरू करने का ऐलान किया था। कंपनी की नई गाइडलाइन के मुताबिक, ड्राइवरों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कंपनियों ने मास्क पहनना अनिवार्य करने जैसे कुछ नियम भी बनाए हैं। कंपनी ने यात्रा रद्द करने की एक नई व्यवस्था भी शुरू की है। इसके तहत अगर ग्राहक या ड्राइवर किसी को भी लगता है कि वह मास्क पहनने जैसे अनिवार्य नियम का पालन नहीं कर रहा है तो वह यात्रा रद्द कर सकता है। कैब में यात्रा के दौरान एक बार में केवल दो यात्री सफर कर सकेंगे। कार के एसी बंद रहेंगे और खिड़कियां खुली रहेंगी। बता दें कि दोनों कंपनियों ने देश में 24 मार्च से बंद की घोषणा के बाद अपना परिचालन बंद कर दिया था।