टी-20 वर्ल्ड कप पर जल्द फैसला चाहता है बीसीसीआई, इसके बाद आईपीएल और एशिया कप पर फैसला संभव

  • टी-20 वर्ल्ड कप ऑस्ट्रेलिया में 18 अक्टूबर से 15 नवंबर तक होना है
  • महामारी के कारण 29 मार्च से होने वाला आईपीएल अनिश्चितकाल के लिए टला

दैनिक भास्कर

Jun 10, 2020, 01:31 PM IST

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) की आज वर्चुअल मीटिंग है। इसमें इस साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप पर फैसला हो सकता है। बीसीसीआई भी चाहता है कि वर्ल्ड कप के होने या टलने पर पर स्थिति साफ हो।इसके बाद आईपीएल और एशिया कप की रूप रेखा तैयार की जाएगी। सूत्रों की मानें तो इस मीटिंग में इसी महीने होने वाले आईसीसी अध्यक्ष पद के चुनाव के चलते टी-20 वर्ल्ड कप पर फैसला टल भी सकता है।

टी-20 वर्ल्ड कप ऑस्ट्रेलिया में 18 अक्टूबर से 15 नवंबर तक होना है। कोरोना के कारण 29 मार्च से होने वाला आईपीएल अनिश्चितकाल के लिए टाला जा चुका है। सितंबर में पाकिस्तान की मेजबानी में एशिया कप टी-20 भी होना है। इस पर भी फैसला होना है। माना जा रहा है कि अगर टी-20 वर्ल्ड कप टलता है तो उस विंडो का इस्तेमाल आईपीएल के लिए हो सकता है।

बीसीसीआई को भी वर्ल्ड कप पर फैसले का इंतजार
बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने कहा था कि वर्ल्ड कप पर जल्द फैसला होना चाहिए। उन्होंने कहा था, ‘‘पहले आईसीसी को टी-20 वर्ल्ड कप पर फैसला लेने दीजिए। इसको लेकर अभी तक कोई औपचारिक घोषणा नहीं की गई है।’’

आईसीसी अध्यक्ष पद के लिए गांगुली मजबूत दावेदार
मीटिंग में अगले आईसीसी चेयरमैन के लिए नॉमिनेशन प्रॉसेस शुरू करने की घोषणा भी की जा सकती है। मौजूदा अध्यक्ष शशांक मनोहर का कार्यकाल मई में खत्म हो चुका है। वे पहले ही अपने कार्यकाल को बढ़ाने से मना कर चुके हैं। नए अध्यक्ष के तौर पर इंग्लैंड बोर्ड के चेयरमैन कोलिन ग्रेव्स और बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली का नाम सबसे आगे है। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के एहसान मनी के नाम पर भी चर्चा हो सकती है।

सही समय पर गांगुली को उम्मीदवार बनाने का फैसला
धूमल के मुताबिक, बीसीसीआई ने गांगुली को उम्मीदवार बनाने का औपचारिक फैसला नहीं किया है। अभी जल्दबाजी क्या है। वे (आईसीसी) पहले चुनाव प्रक्रिया घोषित करें। इसके लिए समय सीमा होगी। तभी हम सही समय पर फैसला करेंगे।

वर्ल्ड कप के लिए 3 विकल्पों पर चर्चा हो सकती है
महामारी के कारण ऑस्ट्रेलिया भी इस साल वर्ल्ड कप नहीं कराना चाहता। ऐसे में आईसीसी की बैठक में वर्ल्ड कप को कराने के लिए इन 3 बड़े विकल्पों पर दोबारा चर्चा हो सकती है।

  • पहला विकल्प यह कि वर्ल्ड कप को 2021 में जनवरी से मार्च के बीच कराया जाए, लेकिन तब मार्च-अप्रैल में आईपीएल भी होगा। साथ ही जनवरी-मार्च में इंग्लैंड को भारत दौरे पर आना है। जहां 5 टेस्ट की सीरीज खेली जाएगी। ऐसे में वर्ल्ड कप होना बेहद मुश्किल है।
  • अगले साल अक्टूबर में भारत में टी-20 वर्ल्ड कप होना है। ऐसे में दूसरा विकल्प जिस पर चर्चा हुई, वो यह था कि 2021 टूर्नामेंट की मेजबानी ऑस्ट्रेलिया को दे दी जाए। जबकि भारत 2022 में भी वर्ल्ड कप करा सकता है।
  • तीसरा विकल्प यह कि ऑस्ट्रेलिया वर्ल्ड कप को 2022 में करा सकता है। इसके लिए कई खिलाड़ी और क्रिकेट बोर्ड भी तैयार हो जाएंगे। बशर्ते उस दौरान कोई आईसीसी इवेंट न हो।

बीसीसीआई और आईसीसी के बीच टैक्स विवाद पर फैसला
इस मीटिंग में तीसरा फैसला आईसीसी और बीसीसीआई के बीच टी-20 वर्ल्ड कप 2021 के लिए टैक्स में छूट लेने वाले विवाद पर हो सकता है। यह टूर्नामेंट भारत में ही होना है। आईसीसी चाहता है कि बीसीसीआई अपनी सरकार से टूर्नामेंट को लेकर टैक्स में छूट हासिल करे, लेकिन अब तक बीसीसीआई इस पर कोई कार्रवाई नहीं कर सका है। इस मामले में आईसीसी के पास भारत से वर्ल्ड कप की मेजबानी छीनने के अधिकार हैं।

बीसीसीआई ने आईबीसी (आईसीसी की कारोबारी ईकाई) से 30 जून तक का समय मांगा है। हालांकि, आईसीसी ने यह अतिरिक्त समय देने से मना कर दिया। यदि टैक्स में छूट नहीं मिलती है, तो आईसीसी को करीब 100 मिलियन डॉलर (करीब 756 करोड़ रुपए) का नुकसान हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *