टाइटन कंपनी का लाभ जनवरी-मार्च तिमाही में 21 प्रतिशत बढ़ा, 357 करोड़ रुपए का हुआ मुनाफा

  • कंपनी ने स्विटजरलैंड की सब्सिडियरी में किया 70 करोड़ रुपए का निवेश
  • पूरे साल के दौरान लाभ 516 करोड़ रुपए रहा, एक साल पहले 465 करोड़ था

दैनिक भास्कर

Jun 08, 2020, 10:28 PM IST

मुंबई. जूलरी से लेकर घड़ी और चश्मे की कंपनी टाइटन को जनवरी-मार्च तिमाही में 357 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हुआ है। एक साल पहले समान तिमाही में हुए 294.6 करोड़ रुपए की तुलना में यह मुनाफा 21 प्रतिशत ज्यादा है।

मार्च तिमाही में कंपनी का रेवेन्यू 3,754 करोड़ रहा

टाइटन ने सोमवार को अपना वित्तीय परिणाम जारी किया। कंपनी ने कहा कि ज्यादा टैक्स से उसके बॉटम लाइन ग्रोथ पर असर दिखा है। कंपनी का स्टैंडअलोन लाभ 57 करोड़ रुपए रहा है। कंपनी ने कहा है कि उसने 70 करोड़ रुपए का अतिरिक्त प्रोविजन अपनी एक स्विटजरलैंड की सब्सिडियरी के निवेश के लिए किया है।  कंपनी का रेवेन्यू सालाना मार्च तिमाही में 3,754 करोड़ रुपए रहा है। एक साल पहले की अवधि के 3,986 करोड़ रुपए की तुलना में यह 5.8 प्रतिशत कम है।

कम खर्च से ऑपरेटिंग लाभ बढ़ा

कंपनी ने बताया कि कोविड-19 से उसे मामूली असर हुआ है क्योंकि मार्च के अंतिम हफ्ते में उसे स्टोर बंद करना पड़ा। टाइटन के अनुसार कम खर्च के कारण उसका ऑपरेटिंग प्रदर्शन अच्छा रहा है। उसका इबिट्डा सालाना आधार पर 32.5 प्रतिशत बढ़कर 603 करोड़ रुपए रहा है। विश्लेषकों को उम्मीद थी कि इसका लाभ 283 करोड़ रुपए रह सकता है, पर इसने इससे आगे प्रदर्शन किया है। कंपनी ने कहा कि पूरे साल के दौरान उसका लाभ 516 करोड़ रुपए रहा है। एक साल पहले यह 465 करोड़ रुपए था।

घड़ी सेगमेंट से मिला 557 करोड़ का रेवेन्यू

तिमाही आधार पर घड़ी सेगमेंट से कंपनी का रेवेन्यू 557 करोड़ रुपए रहा है जो एक साल पहले 531 करोड़ रुपए था। चश्मे के सेगमेंट का रेवेन्यू मार्च तिमाही में 17.4 प्रतिशत गिरकर 108 करोड़ रुपए रहा है। एक साल पहले यह 130 करोड़ रुपए था। अन्य सेगमेंट का रेवेन्यू इसी अवधि में 41 करोड़ रुपए था। जुलरी सेगमेंट का रेवेन्यू पूरे साल के दौरान 16,738 करोड़ रुपए रहा है। इसमें 4.4 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

घड़ी सेगमेंट का रेवेन्यू सालाना आधार पर 2,615 करोड़ रुपए रहा है। यह 7.2 प्रतिशत की वृद्धि दर्शाता है। चश्मे का रेवेन्यू 544 करोड़ रुपए रहा है। इसमें 6.4 प्रतिशत की वृद्धि दिखी है। कंपनी के पास कुल 1,819 रिटेल स्टोर है।