जोकोविच, नडाल, फेडरर निचले रैंक के खिलाड़ियों की मदद के लिए आगे आए, 35 करोड़ रु. राहत कोष में जमा

  • टेनिस के नंबर-1 खिलाड़ी नोवाक जोकोविच ने कहा- हम तीनों ने मिलकर टेनिस के भविष्य को लेकर बात की
  • 200, 250, 700 या 1000 के आसपास रैंकिंग वालों को फेडरेशन का सपोर्ट नहीं, वे खेल छोड़ने के बारे में सोच रहे

दैनिक भास्कर

Apr 20, 2020, 01:25 PM IST

नई दिल्ली. टेनिस के नंबर-1 खिलाड़ी नोवाक जोकोविच का कहना है कि रोजर फेडरर और राफेल नडाल के साथ मिलकर वे निचले रैंकिंग के खिलाड़ियों की मदद करने का प्लान बना रहे हैं। कोरोनावायरस की वजह से सभी इवेंट रद्द हैं। जोकोविच ने कहा कि उन्होंने इस बारे में फेडरर और नडाल से बात की है। जोकोविच ने कहा, ‘हमने टेनिस के भविष्य के बारे में काफी बात की। क्या होने वाला है। हम कैसे निचले रैंक के खिलाड़ियों की मदद कर सकते हैं।’

जोकोविच ने कहा, ‘जिन खिलाड़ियों की रैंकिंग 200, 250, 700 या 1000 के आसपास है और फेडरेशन का सपोर्ट नहीं है। वे खेल छोड़ने के बारे में सोच रहे हैं।’ जोकोविच ने कहा कि खिलाड़ी, एटीपी टूर और चारों ग्रैंडस्लैम मिलकर खिलाड़ी राहत कोष में योगदान देंगे, इसे एटीपी बांटेगा। 23 से 35 करोड़ रुपए तक की राशि के आने की संभावना है।

ऑस्ट्रेलियन ओपन सफलतापूर्वक हुआ
हर साल चार ग्रैंड स्लैम होते हैं। पहले ऑस्ट्रेलियन ओपन, दूसरा विंबलडन, तीसरा फ्रेंच ओपन और आखिर में यूएस ओपन होता है। इस साल ऑस्ट्रेलियन ओपन बगैर किसी बाधा के हो चुका है। टूर्नामेंट के फाइनल में सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने ऑस्ट्रिया के डोमिनिक थिएम को हराकर 8वीं बार खिताब जीता था। जबकि महिला सिंगल्स के फाइनल में अमेरिका की सोफिया केनिन स्पेन की गारबिन मुगुरुजा को हराया था। सोफिया का यह पहला ग्रैंड स्लैम खिताब है।

वहीं, विंबलडन इस साल रद्द हो गया है। अब यह अगले साल 28 जून से 11 जुलाई के बीच होगा। जबकि पेरिस में होने वाले फ्रेंच ओपन को 20 सितंबर तक टाल दिया है। आखिरी यूएस ओपन अपने समय पर ही 31 अगस्त से 13 सितंबर के बीच होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *