जापान की बीमा कंपनी निप्पॉन लाइफ हिंदूजा फैमिली के इंडसइंड बैंक में रणनीतिक निवेश की बना रही है योजना

  • मंगलवार को इंडसइंड बैंक का शेयर बढ़त के साथ बंद हुआ
  • अनिल अंबानी की म्यूचुअल फंड कंपनी खरीदा था निप्पॉन ने

दैनिक भास्कर

May 12, 2020, 07:38 PM IST

मुंबई. जापान की अग्रणी बीमा कंपनी निप्पॉन लाइफ इंडसइंड बैंक में रणनीतिक निवेश की योजना बना रही है। कंपनी इस संबंध में बैंक से बात कर रही है। हालांकि इस मामले में दोनों कंपनियों ने कोई बात करने से इनकार कर दिया है। इस दौरान मंगलवार को शेयर बाजार में गिरावट के बावजूद इंडसइंड बैंक का शेयर बढ़त के साथ बंद हुआ।

जापान की इंश्योरेंस कंपनी है निप्पॉन लाइफ

अंग्रेजी अखबार के मुताबिक निप्पॉन लाइफ भारत में अपनी मजबूती चाहती है। यही कारण है कि वह बैंकिंग में करार कर आगे बढ़ना चाहती है। कंपनी मुख्य रूप से बीमा के क्षेत्र में कार्यरत है। इससे पहले कंपनी अनिल अंबानी की म्यूचुअल फँड कंपनी रिलायंस निप्पॉन में मेजोरिटी स्टेक खरीद कर अपनी कामयाबी हासिल की थी। हालांकि वह इस कंपनी में पहले से ही 26 प्रतिशत हिस्सेदारी रखती थी, लेकिन हाल में उसे मेजोरिटी स्टेक खरीद लिया।

पैठ बढ़ाने की योजना में है निप्पॉन

सूत्रों के मुताबिक निप्पॉन लाइफ बैंकिंग सेक्टर में रणनीतिक प्रवेश से फाइनेंशियल सेक्टर में अपनी स्थिति को मजबूत कर सकती है। बता दें कि किसी बैंक का डिस्ट्रीब्यूएशन मॉडल काफी लाभदायक माना जाता है। निप्पॉन लाइफ को इस करार से भारत में अपनी पैठ बढ़ाने के लिए भारी सहूलियत होगी। वहीं दूसरी तरफ इस विदेशी निवेश से इंडसइंड बैंक को बैड लोन के बढ़ते दबाव और रेटिंग डाउनग्रेड के संभावित खतरे से राहत मिल सकती है।

इंडसइंड बैंक ने पहले भी पैसा जुटाने की बनाई थी योजना

गौरतलब है कि इसके पहले अप्रैल में इंडसइंड बैंक ने मार्गन स्टैनली और सिटी को प्राइवेट निवेशकों से 50 से 75 करोड़ डॉलर जुटाने की जिम्मेदरी दी थी। इसके अलावा कोटक महिंद्रा बैंक के प्रमोटर उदय कोटक को प्रमोटर हिस्सेदारी बढ़ाने की छूट मिलने के बाद हिंदुजा फैमिली ने इंडसइंड बैंक में अपनी हिस्सेदारी 15 फीसदी से बढ़ाकर 26 फीसदी करने के लिए आरबीआई के समक्ष आवेदन किया था। बता दें कि इंडसइंड बैंक में हिंदुजा फेमिली की मेजोरिटी हिस्सेदारी है।