घर खरीदने का बना रहे हैं प्लान तो बारिश का मौसम और कोरोना क्राइसिस इसके लिए सही समय

  • कोरोना के कारण देश में 2020 के पहले छह महीनों में घरों की बिक्री में 49 फीसदी की कमी आई है
  • बारिश के मौसम में घर और प्रॉपर्टी को सही तरह से परखा जा सकता है

दैनिक भास्कर

Jul 09, 2020, 01:54 PM IST

नई दिल्ली. इन दिनों अगर आप घर या प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे है तो ये समय और ये मौसम इसके लिए सही रहेगा। क्योंकि कोरोना के कारण देश में 2020 के पहले छह महीनों में घरों की बिक्री में 49 फीसदी की कमी आई है। इससे प्रॉपर्टी की कीमतों में भी कमी आई है। वहीं बारिश के मौसम में मकान और उसके आसपास के क्षेत्र वैसे नहीं रह जाते जैसे ये सालभर दिखाई देते हैं। इस मौसम में घर और प्रॉपर्टी को सही तरह से परखा जा सकता है। अगर आप भी मकान ख़रीदने की सोच रहे हैं तो कुछ ज़रूरी बातों को ध्यान में रखते हुए सही और किफायती कीमत में घर खरीद सकते हैं।

रास्ते की सही स्थिति पता चलेगी
घर ख़रीदते वक़्त आसपास की सुविधाएं और इंफ्रास्ट्रक्चर पर ध्यान देना चाहिए। बारिश के मौसम में कुछ सड़कों पर पानी भरने, ट्रैफिक और बिजली की समस्या होती है। ख़ासतौर पर मकान या कॉलोनी निर्माताओं द्वारा मुख्य सड़क जोड़े रखने वाली अच्छी सड़क के कई वादे किए जाते हैं, पर असलियत कई बार यह नहीं होती। सड़क असुविधाजनक या जोख़िम भरी हुई तो नहीं है, इसका ध्यान ज़रूर रखें। इन सुविधाओं का अंदाज़ा बारिश में ही लग सकता है। 

बिजली की परेशानी पर दें ध्यान
कई बार देखा जाता है कि बरसात होते ही बिजली चली जाती है। कुछ इलाके ऐसे हैं जहां कई घंटों तक बिजली भी गुल रहती है। आप जिस प्रॉपर्टी में निवेश करने की सोच रहे हैं वहां ऐसी हालत तो नहीं है इसका पता करें। अगर बिजली जाती भी है तो कैम्पस और पार्किंग के लिए जेनरेटर की सुविधा है या नहीं इस पर सवाल कर सकते हैं। ख़ासतौर पर जब आप आउटर या शांत क्षेत्र में मकान ले रहे हैं तो इसे नज़रअंदाज़ न करें।

मकान की बनावट के नहीं मजबूती का भी पता चलेगा
मकान की ख़ूबसूरत बनावट भले ही आपको आकर्षित करे लेकिन मकान की मज़बूती इससे ज़्यादा मायने रखती है। बरसात में प्रॉपर्टी ख़रीद रहे हैं तो इन मकानों में बरसात के दौरान पानी के कारण निर्माण सामग्री की गुणवत्ता पर असर पड़ सकता है। यदि छत या दीवारों पर सीलन, ज़मीन, खिड़की, दरवाज़ों और ख़ासतौर पर बाथरूम में नमी नज़र आ रही है, तो न ख़रीदना ही बेहतर होगा। वहीं बरसात में कई जगहों पर पानी भरने की समस्या रहती है इसीलिए ये देखे की पानी निकासी की व्यवस्था है या नहीं।

कोरोना काल में गिरी प्रॉपर्टी की कीमत
हाल ही में जारी हुए प्रॉपर्टी कंसल्टेंट एनरॉक की रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2019 की पहली छमाही के मुकाबले 2020 के पहले छह महीनों में घरों की बिक्री में 49 फीसदी की कमी आई है। इसके अलावा अन्य रिपोर्ट्स और विशेषज्ञों के अनुसार देश के अलग-अलग क्षेत्रों में प्रॉपर्टी की कीमतों में 10-20 फीसदी तक की कमी आई है। इस कारण इस समय सही प्रॉपर्टी कम दामों पर मिल सकती है।