खाद्य वस्तुओं की थोक महंगाई दर घटकर 3.6 फीसदी पर आई, आंकड़े संग्रह नहीं हो पाने के कारण अप्रैल में थोक महंगाई दर के आंकड़े जारी नहीं हुए

  • मार्च 2020 में खाद्य वस्तुओं की थोक महंगाई दर 5.49 फीसदी थी
  • माह-दर-माह आधार पर प्राथमिक वस्तुओं की महंगाई 0.9 फीसदी गिरी

दैनिक भास्कर

May 14, 2020, 03:33 PM IST

नई दिल्ली. खाद्य वस्तुओं की थोक महंगाई दर अप्रैल 2020 में घटकर 3.6 फीसदी पर आ गई। एक महीने पहले यानी, मार्च में यह दर 5.49 फीसदी थी। यह बात गुरुवार को जारी सरकारी आंकड़े में कही गई। सरकार ने थोक महंगाई के संपूर्ण आंकड़े जारी नहीं किए, क्योंकि देशव्यापी लॉकडाउन के कारण आंकड़ों का संग्रह नहीं किया जा सका।

ईंधन और बिजली इंडेक्स में 8.2 फीसदी गिरावट
सरकार द्वारा जारी किए गए ताजा आंकड़ों के मुताबिक माह-दर-माह आधार पर प्राथमिक वस्तुओं के इंडेक्स में 0.9 फीसदी गिरावट आई। इसी तरह ईंधन और बिजली इंडेक्स में 8.2 फीसदी और मैन्यूफैक्चर्ड फूड उत्पादों के इंडेक्स में 0.29 फीसदी गिरावट रही। सरकार ने कहा कि अप्रैल में बाजार में बहुत कम खरीद बिक्री हुई। इसलिए सरकार ने प्रमुख समूहों और उप समूहों के मैन्यूफैक्चर्ड उत्पादों के सीमित आंकड़े ही जारी करने का फैसला किया। मैन्यूफैक्चर्ड उत्पादों के इंडेक्स की अनुपलब्धता के कारण अप्रैल 2020 के लिए समग्र थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) के आंकड़ों की गणना नहीं हो सकी।

मंडी व विभिन्न सरकारी संस्थानों के दिए भाव पर हुई आंकड़ों की गणना

प्राथमिक वस्तुओं के मूल्य सूचकांक की गणना आर्थिक एवं सांख्यिकी महानिदेशालय और कृषि मंत्रालय द्वारा दिए गए कृषि उत्पादों के मंडी भाव, भारतीय खनन ब्यूरो द्वारा दिए गए खनिज भाव और पेट्रोलियम एव प्राकृतिक गैस मंत्रालय और कुछ सरकारी कंपनियों द्वारा दिए गए कच्चे तेल और प्राकृतिक गैस के भाव के आधार पर किए गए हैं।