क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को टी-20 वर्ल्ड कप की उम्मीद बेहद कम, कहा- भारत से घरेलू टेस्ट सीरीज के भी 90% चांस

  • इस साल ऑस्ट्रेलिया में टी-20 वर्ल्ड कप 18 अक्टूबर से 15 नवंबर के बीच होना है
  • नवंबर-दिसंबर में भारत को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर 4 टेस्ट और 3 वनडे की सीरीज खेलना है

दैनिक भास्कर

May 22, 2020, 02:18 PM IST

इस साल होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप को लेकर मेजबान क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) को बेहद कम उम्मीद है। हालांकि, सीए प्रमुख केविन रॉबर्ट्स का मानना है कि साल के आखिर में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया दौरा कर सकती है। इसकी 90 प्रतिशत संभावना है। दोनों टीमों को नवंबर-दिसंबर में 4 टेस्ट और 3 वनडे की सीरीज खेलना है।

इस साल ऑस्ट्रेलिया में टी-20 वर्ल्ड कप 18 अक्टूबर से 15 नवंबर के बीच होना है। कोरोनावायरस के कारण ऑस्ट्रेलिया में सितंबर तक विदेशी यात्रियों पर प्रतिबंध लगा हुआ है। ऐसे में 16 देशों के इस टूर्नामेंट की उम्मीद बेहद कम है।

वर्ल्ड कप को लेकर आईसीसी ही फैसला करेगी
रॉबर्ट्स ने कहा कि 15 टीमों को कोरोना के बीच ऑस्ट्रेलिया लाना और टूर्नामेंट कराना बेहद मुश्किल होगा। उन्होंने कहा, ‘‘अभी इसके बारे में कुछ भी स्पष्ट नहीं कहा जा सकता है। लेकिन हालात धीरे-धीरे सुधर रहे हैं। आप नहीं जानते कि भविष्य में क्या संभव हो सकता है और क्या नहीं। टूर्नामेंट को लेकर पूरी तरह से आईसीसी (इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल) को ही फैसला लेना है।’’
अगले साल ही कराया जाए टी-20 वर्ल्ड कप: ग्रीम स्मिथ
वहीं, क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका के डायरेक्टर ग्रीम स्मिथ ने कहा, ‘‘उम्मीद थी कि हम टी-20 वर्ल्ड कप से पहले 14 मैच खेल लेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हो सका। मुझे लगता है कि सबसे सही विकल्प यही होगा कि वर्ल्ड कप को टाल दिया जाए। इस टूर्नामेंट को अगले साल की शुरुआत में ही कराया जाना चाहिए।’’
बीसीसीआई वर्ल्ड कप को टालने का कोई सुझाव नहीं दे रहा: धूमल
सोशल मीडिया पर यह कहा जा रहा है कि बीसीसीआई वर्ल्ड कप को टालने और उसकी जगह आईपीएल के कराने की कोशिश कर रही है। हालांकि, बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने इन बातों को नकार दिया। उन्होंने रॉयटर्स से कहा, ‘‘वर्ल्ड कप को टालने का सुझाव बीसीसीआई क्यों देगा? इस मामले में आईसीसी जो फैसला लेगा, उसे सब मानेंगे। यदि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया वर्ल्ड कप कराने की घोषणा करता है और वह इसे अच्छे से संभाल सकता है, तो यह उसका निर्णय है। बीसीसीआई कोई सुझाव नहीं देगा।’’
आज दुनिया में निश्चितता जैसा कुछ नहीं: रॉबर्ट्स
भारतीय टीम की मेजबानी को लेकर किए गए सवाल पर रॉबर्ट्स ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि आज की दुनिया में निश्चितता जैसा कुछ भी नहीं है, इसलिए मैं इसको (टेस्ट सीरीज) लेकर 10 में से 10 नंबर नहीं दे सकता। लेकिन मैं 10 में से 9 नंबर जरूर दे सकता हैं। हमें अभी सिर्फ इंतजार करना चाहिए और देखना चाहिए कि होता क्या है।’’

भारत की मेजबानी से पहले इंग्लैंड दौरे पर जा सकती है ऑस्ट्रेलिया
फिलहाल, ऑस्ट्रेलिया बोर्ड भारत के साथ सीरीज से पहले इंग्लैंड दौरे पर वनडे और टी-20 की सीरीज खेलने की योजना बना रहा है। इंग्लैंड को जुलाई और अगस्त में वेस्टइंडीज और पाकिस्तान के साथ घरेलू सीरीज खेलना है। इसके बाद ऑस्ट्रेलिया टीम इंग्लैंड दौरे पर जा सकती है। रॉबर्ट्स ने कहा, ‘‘हमारे लिए खिलाड़ियों की सुरक्षा ज्यादा जरूरी है, लेकिन पाकिस्तान और विंडीज दौरे सफल होता है, तो इंग्लैंड से सीरीज हो सकती है।’’

टी-20 वर्ल्ड कप का टलना लगभग तय

सूत्रों की मानें तो टी-20 वर्ल्ड कप का टलना लगभग तय माना जा रहा है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया टूर्नामेंट को लेकर आईसीसी के साथ जल्द ही बैठक करेगा। इसके बाद वर्ल्ड कप के टलने की घोषणा हो सकती है। ऐसी स्थिति में टूर्नामेंट के लिए क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के पास तीन विकल्प हो सकते हैं।

  1. टी-20 वर्ल्ड कप को अगले साल की शुरुआत में कराया जा सकता है। लेकिन तब मार्च-अप्रैल में आईपीएल भी होगा। साथ ही जनवरी-मार्च में इंग्लैंड को भारत दौरे करना है। जहां 5 टेस्ट की अहम और बड़ी सीरीज खेली जाएगी। ऐसे में वर्ल्ड कप होना बेहद मुश्किल होगा।
  2. अगले साल भारत में टी-20 वर्ल्ड कप होना है। ऐसे में दूसरा विकल्प है कि यह तारीख ऑस्ट्रेलिया को वर्ल्ड कप कराने के लिए दे दी जाएं। जबकि भारत 2022 में वर्ल्ड कप करा सकता है। हालांकि, इस 2020 के आखिर में ऑस्ट्रेलिया दौरा करके भारत पहले ही सीए का बहुत सहयोग कर चुका होगा, ऐसे में इस वर्ल्ड कप की अदला-बदली के लिए भारत शायद ही हां कर पाएगा।
  3. तीसरा विकल्प यह है कि ऑस्ट्रेलिया वर्ल्ड कप को 2022 में करा सकता है। इसके लिए कई खिलाड़ी और क्रिकेट बोर्ड भी तैयार हो जाएंगे। बशर्ते उस दौरान कोई आईसीसी इवेंट न हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *