कोरोना संकट से निपटने के लिए एसबीआई, बैंक ऑफ बड़ौदा और इंडियन ओवरसीज बैंक कम ब्याज पर दे रहे लोन

  • बैंक ऑफ बड़ौदा (बीओबी) ने अपने ग्राहकों के लिए कोरोनावायरस से निपटने के लिए खास पर्सनल लोन लॉन्‍च किया है
  • एसबीआई ने एग्री गोल्ड लोन स्कीम शुरू की है। इसके तहत किसान सोने के जेवर देकर अपनी जरूरत के मुताबिक लोन ले सकते हैं

दैनिक भास्कर

May 20, 2020, 03:38 PM IST

नई दिल्ली. कोरोनावायरस के कारण पूरे देश में लॉकडाउन जारी है इससे कई लोगों के लिए रोजगार का संकट हो गया है। इस कारण उनको आर्थिक संकट का सामना करना पड़ रहा है। इसी को देखते हुए देश के कई बैंक कम ब्याज पर लोगों को लोन दे रहे हैं। स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (एसबीआई), बैंक ऑफ बड़ौदा (बीओबी) और इंडियन ओवरसीज बैंक (आईओबी) ने इस कठिन समय से निपटने के लिए स्कीम शुरू की हैं। हम आपको इन स्कीम्स के बारे में बता रहे हैं।

इंडियन ओवरसीज बैंक की स्कीम
इंडियन ओवरसीज बैंक (आईओबी) ने एक स्पेशल लोन योजना शुरू की है जिसका लाभ कोई भी स्वयं सहायता समूह (एसएचजी) ले सकेगे। इसके तहत एसएचजी को 9.4 फीसदी के सालाना ब्याज पर ऋण मिलेगा और उसके लिए कोई अतिरिक्त सिक्यॉरिटी भी नहीं ली जाएगी। यह योजना 30 जून 2020 तक के लिए मान्य है। इससे पहले बैंक ऑफ बड़ौदा और एसबीआई ने भी खास लोन स्कीम शुरू की है। इस योजना में किसी स्वयं सहायता समूह के लिए अधिकतम एक लाख रुपए का लोन मिल सकेगा। साथ ही, समूह का प्रत्येक सदस्य 5 हजार रुपए तक का लोन ले सकेगा। यह लोन लेने के लिए सीधे बैंक की शाखा में आवेदन करना होगा। यदि आपके यहां से आईओबी की शाखा दूर हो तो बिजनस कॉरस्पॉन्डेंट के जरिये भी आवेदन जमा किया जा सकता है। इस योजना के तहत कर्ज लेने के बाद छह महीने का मोराटोरियम पीरियड मिलेगा। उसके बाद 30 ईएमआई में कर्ज चुकाना होगा। बैंक इस लोन के लिए कोई अलिरिक्त शुल्क नहीं लेगा।

एसबीआई ने शुरू की एग्री गोल्ड लोन स्कीम
एसबीआई ने एग्री गोल्ड लोन स्कीम शुरू की है। इसके तहत किसान सोने के जेवर देकर अपनी जरूरत के मुताबिक लोन ले सकते हैं। लॉकडाउन के बीच 5 लाख किसानों ने इसका फायदा उठाया है। लोन के लिए अप्लाई करने वाले किसान के नाम कृषि भूमि होनी चाहिए। उस कृषि भूमि की फर्द की कॉपी बैंक में देनी होती है। लोन पर 9.95 फीसदी सालाना ब्याज के वसूला जाएगा। किसी भी ग्रामीण शाखा पर जाकर इसे अप्लाई किया जा सकते हैं।  इसको योनो ऐप के माध्यम से भी अप्लाई किया जा सकता सकता है, इससे किसानों को लोन लेने में आसानी होगी। योजना में यह भी सुविधा दी गई है कि अगर किसी किसान के नाम कृषि भूमि नहीं है लेकिन उसके नाम ट्रैक्टर है तो उस ट्रैक्टर के आधार पर ही जेवर बैंक में जमा करवा कर लोन लिया जा सकता है। ट्रैक्टर की आरसी उस किसान के नाम होनी चाहिए। अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

बैंक ऑफ बड़ौदा भी दे रहा खास पर्सनल लोन
बैंक ऑफ बड़ौदा (बीओबी) ने अपने ग्राहकों के लिए कोरोनावायरस से निपटने के लिए खास पर्सनल लोन लॉन्‍च किया है। कोरोना महामारी के कारण जिन्‍हें रुपयों की जरूरत है वे इसका लाभ ले सकते हैं। इसके तहत अधिकतम 5 लाख रुपए तक का लोन लिया जा सकता है। इसके लिए ग्राहकों को अपने बैंक की शाखा में जाना होगा। स्‍कीम 30 सितंबर, 2020 तक मान्‍य है। बीओबी की वेबसाइट के अनुसार, बैंक की इस सुविधा का लाभ वह ग्राहक ले सकते हैं, जिन्होंने होम लोन, लोन अगेंस्ट प्रॉपर्टी या ऑटो लोन लिया हुआ है। इसके साथ ही उनका क्रेडिट स्कोर 650 या फिर इससे ज्यादा हो। इसके अलावा ग्राहक का बैंक के साथ कम से कम 6 महीनों से संपर्क हो। लोन की ब्याज दर रेपो दर से लिंक्ड (बीआरएलएलआर) है।  फिलहाल रिटेल लोन के लिए लागू बीआरएलएलआर 7.25 प्रतिशत है जो बदलती है। यह लोन आपको 5 साल में चुकाना होगा। अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें