कोरोना के इलाज के लिए छोटी अवधि की हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी लाएंगी बीमा कंपनियां, इरडा ने दी मंजूरी

  • इस पॉलिसी को 65 साल की उम्र तक के लोग खरीद सकेंगे
  • कंपनियां 31 मार्च, 2021 तक छोटी अवधि की पॉलिसी ऑफर कर सकेंगी

दैनिक भास्कर

Jun 24, 2020, 09:54 AM IST

नई दिल्ली. देश में कोरोना संकट को देखते हुए भारतीय बीमा नियामक और विकास प्राधिकरण (इरडा) ने बीमा कंपनियों को छोटी अवधि की हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी ऑफर करने की इजाजत दे दी। इनमें कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ कवरेज दी जाएगी। इरडा के अनुसार छोटी अवधि की बीमा पॉलिसी जो कोविड-19 के लिए कवरेज देती हैं, वह समय की जरूरत हैं।

3 महीने के लिए भी करा सकेंगे इंश्योरेंस
इरडा के अनुसार सभी बीमा कंपनियों (लाइफ, इंश्योरेंस और हेल्थ) को कोविड-19 के लिए शॉर्ट टर्म हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी को गाइडलाइंस में रहते हुए ऑफर करने की इजाजत दे दी है। उसने कहा कि छोटी अवधि की पॉलिसी कम से कम तीन महीने और अधिकतम 11 महीने की अवधि के लिए जारी की जा सकती हैं। गाइडलाइंस जारी करते हुए कहा गया है कि तीन महीने और 11 महीने के बीच पॉलिसी की अवधि पूरे हो चुके महीनों के मल्टीपल में होगी। हालांकि, तीन महीने से कम की पॉलिसी टर्म को इजाजत नहीं है।

15 दिन से ज्यादा नहीं होगा वेटिंग पीरियड
इरडा ने बीमा कंपनियों को ऐसे शॉर्ट टर्म हेल्थ इंश्योरेंस प्रोडक्ट्स पर काम करने के लिए कहा जिनमें वेटिंग पीरियड 15 दिन से ज्यादा न हो। छोटी अवधि की पॉलिसी 31 मार्च, 2021 तक लागू रहेंगी। दिशा-निर्देशों के मुताबिक एक साल से कम अवधि की पॉलिसी को शॉर्ट-टर्म हेल्थ पॉलिसी कहा जा सकता है। सर्कुलर में कहा गया है कि शॉर्ट-टर्म पॉलिसी को पर्सनल और ग्रुप इंश्योरेंस के रूप में पेश किया जा सकता है। इस पॉलिसी को 65 साल की उम्र तक के लोग खरीद सकेंगे। 

कई कंपनियां कोरोना के लिए पहले से ऑफर कर रहीं पॉलिसी
कोरोना संक्रमण को देखते हुए कई कंपनियों ने पहले भी इसके लिए इंश्योरेंस पॉलिसी शुरू की हैं। बजाज आलियांज जनरल इंश्योरेंस, ICICI लोम्बार्ड कोरोनावायरस और Clinikk सहित कई कंपनियों ने कोरोनावायरस के इजाल को कवर करने के लिए प्लान लॉन्च किया है। हालाँकि ये सभी पॉलिसी एक साल के लिए आती हैं।