कोरोनावायरस के कारण टोक्यो ओलिंपिक टला, अब खिलाड़ियों का बैन भी बढ़ सकता है: एआईयू

  • 2020 में कई खिलाड़ियों का बैन खत्म हो रहा है, ऐसे में ओलिंपिक खेल सकते हैं
  • बैन ओलिंपिक तक बढ़ सकता है, क्योंकि यह टाइम के आधार पर होता है, इवेंट के नहीं

दैनिक भास्कर

Apr 20, 2020, 07:36 AM IST

टोक्यो. कोरोनावायरस के कारण टोक्यो ओलिंपिक गेम्स को एक साल के लिए टाल दिया गया है। ऐसे में डोपिंग के कारण बैन हुए कई खिलाड़ियों को गेम्स को उतरने का मौका मिल सकता है। क्योंकि 2020 में उनका बैन खत्म हो रहा है। ऐसे में उनका बैन ओलिंपिक तक के लिए बढ़ाया जा सकता है। एथलेटिक्स इंटीग्रिटी यूनिट (एआईयू) ने कहा कि ओलिंपिक के स्थगित होने के कारण इन एथलीटों का बैन बढ़ाया जा सकता है। क्योंकि डोपिंग बैन टाइम के आधार पर होता है, इवेंट के आधार पर नहीं।

यूनिट के चीफ ब्रेट क्लॉथियर ने कहा कि निश्चित रूप से इसमें परेशानी है। ओलिंपिक टलने से कुछ एथलीटों को लाभ मिल सकता है। यह दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति है। कानून में बहुत स्पष्ट है। यह समय पर आधारित है। किसी विशेष इवेंट्स पर नहीं। हालांकि क्लॉथियर ने कहा कि इस साल अगस्त के बाद डोपिंग के कारण बैन एथलीट को दो ओलिंपिक के लिए बैन किया जाएगा। क्योंकि वे चार साल की बैन सीमा के अंदर आते हैं। उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस के कारण डोपिंग एजेंसियों पर भी प्रभाव पड़ा है। वे लगातार खिलाड़ियों का टेस्ट नहीं कर पा रहे हैं। अलग-अलग देशों में बैन भी अलग-अलग तरह के हैं।

ओलिंपिक को सफल बनाने की पूरी कोशिश करेंगे
हाल ही में टोक्यो गेम्स एसोसिएशन ने इंटरनेशनल ओलिंपिक कमेटी (आईओसी) के साथ टेलीकांफ्रेंस के जरिए बैठक की। चर्चा के बाद बताया कि 2021 में होने वाले गेम्स को लेकर तैयारी इस महीने जांची जाएगी और मई तक इसका नया रोडमैप तैयार किया जाएगा। आईओसी की समन्वय समिति के अध्यक्ष जॉन कोट्स ने कहा कि ऐसी कठिन परिस्थिति में ओलिंपिक लोगों के लिए एक आशा की किरण बनकर उभरा है। वहीं, जापान के पूर्व प्रधानमंत्री योशिरो मोरी ने कहा, ‘‘हमने पिछले 5-6 सालों में जो कुछ तैयार किया है, उसे आज के फैसलों से आगे बढ़ाने का काम किया है। हम सभी साथियों के साथ मिलकर ओलिंपिक को सफल बनाने की पूरी कोशिश करेंगे।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *