ओला से जुड़े ऑटोरिक्शा में ड्राइवर और यात्री के बीच लगाई जाएगी स्क्रीन, हर 48 घंटे में करना होगा सैनिटाइज

  • रिक्शे को हर 48 घंटे में अनिवार्य रूप से सेनेटाइज किया जाएगा
  • इसके लिए देश भर में 100 से अधिक फ्यूमिगेशन सेंटर की मदद ली जाएगी

दैनिक भास्कर

Jun 24, 2020, 05:31 PM IST

नई दिल्ली. ऐप आधारित कैब सेवा मुहैया कराने वाली कंपनी ओला ने कहा है कि कोविड-19 महामारी के चलते उसके प्लेटफॉर्म से जुड़े सभी ऑटोरिक्शा में ड्राइवर तथा यात्रियों के बीच स्क्रीन लगाई जाएगी। इसके साथ ही रिक्शे को हर 48 घंटे में अनिवार्य रूप से सैनिटाइज किया जाएगा।

देश भर में 100 से अधिक फ्यूमिगेशन सेंटर

ओला ने एक बयान में कहा कि उसके मंच से जुड़े सभी ऑटोरिक्शा को 48 घंटे में एक बार केमिकल का छिड़काव कर उसे कीटाणुमक्त किया जाएगा। इसके लिए देश भर में 100 से अधिक फ्यूमिगेशन सेंटर की मदद ली जाएगी। बयान के मुताबिक दिल्ली में इस समय ऐसे 15 सेंटर है और आने वाले दिनों में इनकी संख्या बढ़ाई जाएगी। कंपनी ने बताया कि इस पहल के लिए साझेदार ऑटो से कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं लिया जाएगा।

 ड्राइवर और राइडर्स की सुरक्षा तय करने का उद्देश्य  

ओला के प्रवक्ता आनंद सुब्रमण्यिन ने कहा कि ऑटो-रिक्शा भारत में सब जगह उपलब्ध हैं और यात्रा के लिए सबसे सस्ते और बहुज ज्‍यादा उपयोग किए जाने वाले साधन हैं। ओला ऑटो के लिए इन अतिरिक्त सुरक्षा उपायों से ड्राइवर और राइडर्स आरामदायक और सुरक्षित राइड के प्रति आश्वस्त होंगे।