एसबीआई ने कर्ज की ब्याज दर घटाई, 0.25 फीसदी कम की एमसीएलआर

  • एमसीएलआर 7.25 फीसदी से घटकर 7 फीसदी पर आई
  • ईबीआर व आरएलएलआर 0.40 फीसदी घटी

दैनिक भास्कर

Jun 08, 2020, 09:16 PM IST

नई दिल्ली. देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने सोमवार को अपनी मूल कर्ज दर एमसीएलआर में कटौती करने की घोषणा की। बैंक ने सभी अवधि के एमसीएलआर में 0.25 फीसदी अंक की कटौती कर दी है। नई दरें बुधवार 10 जून से लागू होंगी।

एक साल की एमसीएलआर 7.25 फीसदी से घटकर 7 फीसदी पर आई

बैंक ने अपने बयान में कहा कि एक साल की एमसीएलआर 7.25 फीसदी से घटाकर 7 फीसदी कर दी गई है। बैंक ने अपने एमसीएलआर में लगातार 13वीं बार कटौतती की है। एसबीआई ने बेस दर को भी 0.75 फीसदी घटाकर 8.15 फीसदी से 7.40 फीसदी कर दिया। नई बेस दर भी 10 जून से लागू होगी।

एक्सटर्नल बेंचमार्क लिंक्ड लेंडिंग रेट और रेपो लिंक्ड लेंडिंग रेट भी कम हुई

बैंक ने एक्सटर्नल बेंचमार्क लिंक्ड लेंडिंग रेट (ईबीआर) और रेपो लिंक्ड लेंडिंग रेट (आरएलएलआर) भी कम करने की घोषणा की। इन दोनों दरों में पहली जुलाई से 0.40 फीसदी की कटौती लागू होगी। इस कटौती के बाद सालाना ईबीआर 7.05 फीसदी से घटकर 6.65 फीसदी हो जाएगी। इसी तरह आरएलएलआर 6.65 फीसदी से घटकर 6.25 फीसदी हो जाएगी।

घट जाएंगी लोन की मासिक किस्तें

बैंक के एक अधिकारी ने कहा कि 30 साल के लिए लिए गए 25 लाख रुपए के लोन पर एमसीएलआर के तहत मासिक किस्त करीब 421 रुपए घट जाएगी। इसी तरह ईबीआर व आरएलएलआर के तहत मासिक किस्त 660 रुपए घट जाएगी। गौरतलब है कि आरबीआई ने 22 मई को रेपो रेट को 0.40 फीसदी अंक घटकर 4 फीसदी कर दिया था। पंजाब नेशनल बैंक, बैंक ऑफ इंडिया और यूको बैंक ने रेपो और एमसीएलआर से जुड़ी अपनी लोन दरें पहले ही घटा दी हैं।