एसबीआई जनरल इंश्योरेंस पिछले साल 412 करोड़ रुपए लाभ में रहा, साल-दर-साल आधार पर 23 फीसदी बढ़ा मुनाफा

  • 2018-19 में एसबीआई जनरल इंश्योरेंस को 334 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हुआ था
  • कंपनी का अंडरराइटिंग प्रोफिट 23 फीसदी घटकर 61 करोड़ रुपए पर आ गया

दैनिक भास्कर

May 11, 2020, 07:18 PM IST

एसबीआई जनरल इंश्योंरेंस ने सोमवार को कहा कि 31 मार्च 2020 को समाप्त पिछले कारोबारी साल में वह 412 करोड़ रुपए के शुद्ध लाभ में रहा। यह एक साल पहले हुए लाभ के मुकाबले 23 फीसदी ज्यादा है। 2018-19 में कंपनी को 334 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हुआ था।

अंडरराइटिंग प्रोफिट 23 फीसदी घटा
कंपनी ने कहा कि पिछले कारोबारी साल में उसका अंडरराइटिंग प्रोफिट 23 फीसदी घटकर 61 करोड़ रुपए पर आ गया। इससे एक साल पहले कंपनी का अंडरराइटिंग प्रोफिट 79 करोड़ रुपए था। कंपनी का ग्रॉस रिटेन प्रीमियम (जीडब्ल्यूपी) पिछले कारोबारी साल में 6,840 करोड़ रुपए रहा। इससे एक साल पहले जीडब्ल्यूपी 4,717 करोड़ रुपए था।

उद्योग के मुकाबले कंपनी ने ज्यादा विकास दर्ज किया
कंपनी के एमडी और सीईओ पुषाण महापात्रा ने एक बयान में कहा कि पिछले कारोबारी साल में हमने विकास को जारी रखा। हमारा 45 फीसदी विकास हुआ। जबकि उद्योग की विकास दर इस दौरान करीब 12 फीसदी रही। कंपनी ने सभी कारोबारी कारोबारी सेगमेंट में विकास दर्ज किया। महापात्रा ने कहा कि नई साझेदारियों और वाहनों के क्षेत्र में वर्तमान साझेदारियों से कारोबार को होने वाले लाभ, बैंकास्योंरेंस नेटवर्क के बीच ज्यादा ब्रांच की सक्रियता या ज्यादा प्रसार और कॉरपोरेट, एसएमई और फसल कारोबारी में बेहतर कारोबार ने भी कंपनी के विकास में मदद पहुंचाई।