एलन मस्क ने लॉकडाउन के बीच टेस्ला का प्लांट खोलने का किया ऐलान, ट्वीट कर गिरफ्तार करने की चुनौती भी दी

  • मस्क प्रशासन के आदेश की आलोचना कर प्लांट को खोलने के लिए अनुमति देने की मांग कर रहे हैं
  • प्रशासन का कहना है कि कोरोना जैसी महामारी को रोकने के लिए लॉकडाउन बेहद जरूरी है

दैनिक भास्कर

May 12, 2020, 05:05 PM IST

कैलिफोर्निया. टेस्ला कंपनी के सीईओ एलन मस्क ने लॉकडाउन के बावजूद कैलिफोर्निया स्थित प्लांट को दोबारा खोलने का ऐलान किया है। उन्होंने ये भी कहा है कि वे गिरफ्तार होने को भी तैयार है। दरअसल, मस्क ने ट्वीट किया, ‘टेस्ला अल्माडा काउंटी रूल्स के खिलाफ प्रोडक्शन दोबारा शुरू कर रही है। मैं बाकी सभी लोगों के साथ लाइन में रहूंगा। अगर किसी को गिरफ्तार किया जाता है तो सिर्फ मुझे किया जाना चाहिए।’ बता दें कि टेस्टा अमेरिकी इलेक्ट्रिक-कार कंपनी है।

एलन मस्क का ट्वीट

उनके ट्वीट के बाद टेस्ला और लॉकल अथॉरिटी के बीच विवाद खुलकर सामने आ गया है। मस्क प्रशासन के घर में रहने के आदेश की लगातार आलोचना कर रहे हैं और प्लांट को खोलने के लिए अनुमति देने की मांग कर रहे हैं। हालांकि, स्वास्थ्य विभाग इसकी अनुमति देने से इंकार कर रहा है। प्रशासन का कहना है कि कोरोना जैसी महामारी को रोकने के लिए लॉकडाउन आवश्यक है, इसलिए टेस्ला को प्लांट खोलने की इजाजत नहीं दी जा सकती। बता दें कि अमेरिका के कुछ राज्यों में 23 मार्च से लॉकडाउन के चलते टेस्ला कंपनी का कैलिफॉर्निया प्लांट बंद है। 

प्लांट कैलिफोर्निया से बाहर ले जाने की चुनौती
इतना ही नहीं, एलन अपनी कंपनी टेस्ला को खोलने की अनुमति नहीं मिलने को लेकर प्रशासन के खिलाफ केस भी दर्ज करा चुके हैं। साथ ही, वे प्रशासन की पाबंदियों को गलत बताते हुए टेस्ला का हेडक्वॉर्टर और प्लांट को कैलिफोर्निया से बाहर ले जाने की चुनौती भी दे चुके हैं। टेस्ला के सैन फ्रांसिस्को खाड़ी लगभग 20,000 कर्मचारी हैं, जिनमें से लगभग आधे फ्रेमोंट में हैं। बता दें कि कोरोना संक्रमण के चलते सबसे ज्यादा 81,795 मौतें अमेरिका में ही हुई हैं।

गवर्नर ने विवाद खत्म करने मांग की
कैलिफोर्निया के गवर्नर गेविन न्यूसम ने सोमवार को इस विवाद को लेकर तनाव कम करने की मांग की। उन्होंने कहा कि टेस्ला अगले सप्ताह से अपने प्लांट में प्रोडक्शन शुरू कर पाएगी, उन्हें इस बात का विश्वास है। अल्मेडा जिले में जहां टेस्ला का फ्रेमोंट प्लांट स्थित है वहां के काउंटी सुपरवाइजर स्कॉट हेगर्टी ने कहा, “यह एक दुखद दिन होगा, जब फ्रेमोंट पुलिस टेस्ला में चली जाए और एलन मस्क को गिरफ्तार कर ले।” 

कंपनी ने फैक्ट्री लौटन के लिए मेल किया
एलन मस्क के ट्वीट से पहले टेस्ट ने प्रोडक्शन वर्कर्स को मेल के जरिए बताया कि फ्रेमोंट फैक्ट्री में काम के लिए वापस लौटें। मेल में कहा गया कि प्रोडक्शन कर्मचारियों को सूचित किया जा रहा है कि उनकी फरलो रविवार को खत्म हो गई। उन्हें कब से वापस आना है इसके लिए मैनेजमेंट 24 घंटे के अंदर उनसे संपर्क करेगा। जो कर्मचारी काम पर नहीं लौटेंगे वे अनपेड लीव पर रहेंगे, लेकिन वे नौकरी के लाभ के लिए इलेजिबल नहीं होंगे।

7 शब्दों के ट्वीट से टेस्ला की वैल्यूएशन घटाई
टेस्ला के फाउंडर एलन मस्क ने 1 मई को ट्वीट किया था। जिसमें उन्होंने लिखा, ‘Tesla stock price is too high imo’. इस ट्वीट की वजह से कंपनी की वैल्यू 14 बिलियन डॉलर (करीब 1 लाख करोड़ रुपए) कम हो गई। वहीं, मस्क की जेब से भी 3 बिलियन डॉलर (22.6 हजार करोड़ रुपए) निकल गए। दरअसल, ट्वीट में उन्होंने टेस्ला कंपनी के शेयर को महंगा बताया था। इसके अलावा उन्होंने अपनी सारी संपत्ति बेचने की बात भी कही थी।