इंडिगो के सीनियर पायलट्स की सैलरी स्ट्रक्चर में हो सकता है बदलाव, 40 फीसदी तक वेतन कटौती संभव

  • नए वेतन ढ़ांचे के तहत पायलट्स के पास दो विकल्प होंगे
  • कंपनी के वरिष्ठतम पायलट्स की कमाई 7.5 लाख प्रति माह तक है

दैनिक भास्कर

May 19, 2020, 02:11 PM IST

नई दिल्ली. निजी विमानन कंपनी इंडिगो अपने पायलट्स के वेतन स्ट्रक्चर में बदलाव कर रही है। कंपनी अपने सीनियर पायलट्स के वेतन में 40 फीसदी की कटौती कर सकती है। कंपनी के कई पायलट्स को ईमेल भेजकर इसकी जानकारी दी गई है। पायलट्स को भेजी गई ईमेल के मुताबिक, पायलट्स को दो विक्लप दिए जा रहे हैं। इनमें से उन्हें किसी एक विकल्प का चुनाव करने को कहा गया है। इन दोनों विकल्पों में वेतन में कटौती होती है। पहले विकल्प में 42 एनुअल लीव के साथ वेतन और दूसरे में हर महीने 1 सप्ताह की छुट्टी का विकल्प दिया गया है।

35000 रुपए से 1.3 लाख रुपए प्रति महीने की वेतन कटौती होगी

वर्तमान में हर पायलट के वेतन पैकेज में 22 दिन के एनुअल लीव का प्रावधान है। इंडस्ट्री के एक वरिष्ठ एक्जीक्यूटिव ने कहा है कि इन दोनों विकल्पों में से किसी भी विकल्प का चुनाव करने पर 35000 रुपए से 1.3 लाख रुपए प्रति महीने की वेतन कटौती होगी। कंपनी के वरिष्ठतम पायलट्स की कमाई 7.5 लाख प्रति माह तक है। हालांकि अभी इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि वेतन कटौती कब से लागू होगी।

अप्रैल में भी कर चुकी है वेतन कटौती का ऐलान

बता दें कि इसके पहले कंपनी ने ट्रेनी पायलट्स के कॉन्ट्रैक्ट शर्तों में बदलाव किया था। इसके तहत कंपनी ने कॉन्ट्रैक्ट में जो नई शर्तें जोड़ी हैं उसके मुताबिक रोस्टर (काम करने का शिड्यूल) में बदलाव के साथ सैलरी में भी 50 फीसदी तक कटौती हो सकती है। इससे पहले अप्रैल से कंपनी ने अपने वेतन कटौती की घोषणा को मार्च में सरकार द्वारा कंपनियों को लॉकडाउन के दौरान वेतन में कटौती नहीं करने की अपील के बाद वापस ले लिया था।