इंग्लैंड के खिलाफ जानबूझकर हारने वाले दावे पर होल्डिंग ने कहा- मैंने धोनी का चेहरा देखा था, वे सिर्फ जीतना चाहते थे

  • वनडे वर्ल्ड कप 2019 के 38वें मुकाबले में 30 जुलाई को इंग्लैंड ने भारतीय टीम को 31 रन से हराया था
  • इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स ने अपनी किताब में लिखा कि धोनी मैच जीतने की कोशिश नहीं कर रहे थे

दैनिक भास्कर

Jun 06, 2020, 09:54 PM IST

वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग ने कहा कि वनडे वर्ल्ड कप 2019 में इंग्लैंड के खिलाफ महेंद्र सिंह धोनी ने मैच जीतने की पूरी कोशिश की थी। उनके मुताबिक, धोनी के चेहरे पर जीत की ललक साफ दिख रही थी। हाल ही में इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स ने अपनी किताब ‘ऑन फायर’ में लिखा है कि धोनी ने मैच जीतने की कोशिश नहीं की थी।

स्टोक्स ने लिखा कि भारत के जीतने की उम्मीद थी, इसके बावजूद धोनी बड़े शॉट नहीं लगा रहे थे। आखिरी 10 ओवर में धोनी की एप्रोच को देखकर स्टोक्स काफी हैरान थे।

स्टोक्स ने कहा कि उनके बयान को गलत लिया गया

दरअसल, उस मैच में भारत यदि इंग्लैंड को हरा देता तो पाकिस्तान सेमीफाइनल में पहुंच सकता था। ऐसे में पाकिस्तानी यूजर्स और पूर्व खिलाड़ियों ने स्टोक्स के बयान का सहारा लेकर यह दावा किया था कि भारत यह मैच जानबूझकर हारा है। पूर्व पाकिस्तानी गेंदबाज सिकंदर बख्त भी इसमें शामिल थे। हालांकि, स्टोक्स ने सफाई देते हुए कहा था कि उनके बयान को गलत तरीके से लिया जा रहा है। उन्होंने जानबूझकर हारने वाली बात नहीं कही है।

धोनी ने मैच में 100 प्रतिशत दिया था: होल्डिंग
होल्डिंग ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, ‘‘वह मैच ऐसा नहीं था कि जिसे भारत जीत सकता था। लेकिन, मुझे नहीं लगता कि कोई टीम जीतने की कोशिश नहीं करती। वह मैच मैंने देखा था। तब मुझे ऐसा बिल्कुल भी नहीं लगा कि भारतीय टीम ने मैच में अपना 100 प्रतिशत योगदान नहीं दिया हो। मैंने धोनी का चेहरा देखा था, जो साफ तौर पर यही कह रहा था कि वे यह मैच जीतना ही चाहते हैं।’’

‘लोग हेडलाइन के लिए किताब में कुछ भी लिखते हैं’
उन्होंने कहा, ‘‘लोग अपनी बात कहने के लिए पूरी तरह स्वतंत्र हैं, इसलिए मुझे लगता है कि लोग अपनी किताब में कुछ भी लिख देते हैं। मेरा मानना है कि लोगों को किताब लिखने के लिए हेडलाइन्स चाहिए होती हैं, इसलिए वे ऐसी बातें लिखते हैं।’’

मैच में धोनी ने 42 और स्टोक्स ने 79 की पारी खेली थी
2019 का वर्ल्ड कप राउंड रॉबिन फॉर्मेट में खेला गया था। टूर्नामेंट के 38वें मैच में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 338 रन का लक्ष्य दिया था। इसके जवाब में भारतीय टीम 50 ओवर में 5 विकेट पर 306 रन बना सकी थी। टीम इंडिया यह मैच 31 रन से हार गई थी। मुकाबले में रोहित शर्मा ने 102 और धोनी ने 42 रन की पारी खेली थी। वहीं, स्टोक्स ने 79 रन बनाए थे। भारतीय टीम इस वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से हारी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *