आज फिर महंगा हुआ पेट्रोल-डीजल, दिल्ली में पेट्रोल 5 पैसे प्रति लीटर और डीजल 13 पैसे प्रति लीटर बढ़ा

  • राजधानी में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 80.43 रुपए और डीजल की कीमत 80.53 रुपए प्रति लीटर पर पहुंच गई है
  • शनिवार को पेट्रोल पर 25 पैसे प्रति लीटर और डीजल पर 21 पैसे प्रति लीटर इजाफा हुआ था

दैनिक भास्कर

Jun 29, 2020, 12:50 PM IST

नई दिल्ली. देश में पेट्रोल और डीजल के दाम में आज (सोमवार) को एक बार फिर बढ़ोतरी हुई है। आज दिल्ली में पेट्रोल पर 5 पैसे प्रति लीटर और डीजल पर 13 पैसे प्रति लीटर का इजाफा हुआ है। राजधानी में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 80.43 रुपए और डीजल की कीमत 80.53 रुपए प्रति लीटर पर पहुंच गई है। लगातार 21 दिन बढ़ोतरी के बाद बीते रविवार तेल की कीमतें नहीं बढ़ी थीं।

शनिवार को पेट्रोल पर 25 पैसे और डीजल 21 पैसे महंगा हुआ
बीते शुक्रवार को पेट्रोल पर 21 पैसे प्रति लीटर और डीजल पर 17 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई थी। शनिवार को पेट्रोल पर 25 पैसे प्रति लीटर और डीजल पर 21 पैसे प्रति लीटर इजाफा हुआ था। रविवार को तेल के दाम नहीं बढ़ाए गए थे। 

प्रमुख शहरों में पेट्रोल-डीजल के दाम

शहर का नाम पेट्रोल/रुपए लीटर डीजल/रुपए लीटर
दिल्ली 80.43 80.53
मुंबई 87.19 78.83
चेन्नई 83.63 77.72
कोलकाता 82.10 75.64
इंदौर 88.18 80.06
भोपाल 88.08

79.95

6 साल में क्रूड घटा, एक्साइज ड्यूटी बढ़ी और आम आदमी ज्यादा टैक्स चुकाता रहा 
पेट्रोल और डीजल पर केंद्र सरकार सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी लगाती है और राज्य सरकारें वैल्यू एडेड टैक्स यानी वैट वसूलती हैं। अप्रैल 2014 में जब क्रूड ऑयल 105 डॉलर प्रति बैरल के आसपास था, तब दिल्ली में डीजल करीब 55 रुपए प्रति लीटर बिकता था। इसमें बेस प्राइस, किराया भाड़ा और डीलर कमीशन 45.5 रुपया था। इसके ऊपर 10 रुपए सरकार टैक्स के तौर पर वसूलती थी। यानी एक लीटर डीजल के लिए आप जितना पैसा देते थे, उसका 18% हिस्सा सरकार टैक्स वसूल लेती थी।

अब आज की बात करते हैं। अभी क्रूड ऑयल 42 डॉलर प्रति बैरल पर है। 16 जून के प्राइस ब्रेकअप के मुताबिक, डीजल 75 रुपए पर है। इसमें बेस प्राइस, किराया भाड़ा और डीलर कमीशन 25.76 रुपया है। इसके ऊपर 50 रुपए सरकार टैक्स के तौर पर वसूल रही है। यानी एक लीटर डीजल के लिए आप जितना पैसा दे रहे हैं, उसका 66% हिस्सा सरकार टैक्स वसूल ले रही है।

मार्च और मई में सरकार ने दो बार एक्साइज ड्यूटी बढ़ाई
14 मार्च को केंद्र सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी 3 रुपए प्रति लीटर बढ़ा दी थी। फिर 5 मई को इसमें अचानक पेट्रोल पर 10 रुपए और डीजल पर 13 रुपए प्रति लीटर का इजाफा कर दिया। पेट्रोल पर अब 32.98 और डीजल पर 31.83 रुपए प्रति लीटर एक्साइज ड्यूटी लगती है। ड्यूटी बढ़ाने से सरकार को इस फाइनेंशियल ईयर में 1.6 लाख करोड़ रुपए का एक्स्ट्रा रेवेन्यू मिलेगा।

दिल्ली ने वैट तकरीबन दोगुना किया
केंद्र ने एक्साइज ड्यूटी बढ़ाई। इसी के साथ केजरीवाल सरकार ने मई में यह फैसला कर लिया कि वह पेट्रोल-डीजल पर वैट बढ़ाएगी। पेट्रोल पर तो वैट 27% से बढ़कर 30% ही किया गया, लेकिन डीजल पर यह 16.75% से करीब-करीब दोगुना बढ़ाकर 30% कर दिया गया। इससे पेट्रोल तो 1.6 रुपए महंगा हुआ, लेकिन डीजल एकदम से 7 रुपए महंगा हो गया।

8 साल पहले डीजल 30 रुपए सस्ता था
दिल्ली में 8 साल पहले यानी जून 2012 में पेट्रोल 71 और डीजल 41 रुपए/लीटर था। यानी पेट्रोल के मुकाबले डीजल 30 रुपए सस्ता हुआ करता था। वहीं, मुंबई में जून 2012 में यह फर्क 32 रुपए का था। तब वहां पेट्रोल 76 रुपए और डीजल 45 रुपए प्रति लीटर था।

पेट्रोल की कीमत में टैक्स का हिस्सा

कंपोनेंट दिल्ली में कीमत (रु/लीटर)
बेस प्राइस 22.11
किराया भाड़ा .33
बेस प्राइस + किराया भाड़ा (इस पर ही वैट और एक्साइज ड्यूटी वसूली जाती है) 22.44
एक्साइज ड्यूटी 32.98
डीलर कमीशन 3.60
वैट 17.71
रिटेल बिक्री कीमत 76.73

सोर्स: आईओसीएल की वेबसाइट पर 16 जून को उपलब्ध जानकारी के मुताबिक