आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के सीईओ ने अपनी सैलरी में 30% कटौती का किया ऐलान, वरिष्ठ प्रबंधन अधिकारी लेंगे 10 फीसदी कम वेतन

  • कोरोनावायरस के राहत कार्यों के लिए कुल 10.86 करोड़ रुपए का योगदान किया गया है
  • बैंक ने पीएम केयर्स में पांच करोड़ रुपए का योगदान दिया है

दैनिक भास्कर

May 25, 2020, 10:43 PM IST

नई दिल्ली. कोविड-19 के प्रभाव को देखते हुए निजी क्षेत्र के आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के वरिष्ठ प्रबंधकों ने स्वैच्छिक रूप से 10 फीसदी कम वेतन लेने की घोषणा की है। बैंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने भी अपने वेतन में 30 फीसदी कटौती स्वीकार की है। बैंक ने सोमवार को एक बयान में कहा कि उसके वरिष्ठ प्रबंधन अधिकारियों ने चालू वित्त वर्ष में स्वैच्छिक रूप से 10 प्रतिशत कम वेतन लेने की घोषणा की है। बैंक के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी वी. विजयनाथन ने भी अपने वेतन में 30 फीसदी कटौती की है।

बैंक ने पीएम केयर्स में पांच करोड़ रुपए का योगदान दिया है
बैंक ने जानकारी दी कि उसके कर्मचारियों ने एक दिन का वेतन देकर कुल 3.29 करोड़ रुपए पीएम केयर्स में दिए हैं। बैंक ने पीएम केयर्स में पांच करोड़ रुपए का योगदान दिया है। जबकि उसके प्रबंध निदेशक ने निजी तौर पर कोविड-19 राहत कार्य में 47 लाख रुपए का योगदान दिया है। बैंक की कोरोना वायरस के राहत कार्यों के लिए कुल 10.86 करोड़ रुपए का योगदान किया गया है।